Farmer Protest: ट्रैक्टर मार्च को लेकर किसान नेताओं का बड़ा बयान, कहा 26 जनवरी के लिए तैयारी

 

नई दिल्ली : कृषि बिल को लेकर लगातार हुए बैठकों का कोई हल निकलने के बाद किसान लगातार अपने प्रदर्शन को तेज कर रहे है, इसे लेकर उन्होंने आज विभिन्न राज्यों में ट्रैक्टर रैली भी निकाली, जो दिल्ली की ओर कूच करेगा। हालांकि इसे लेकर सीमा पर भारी स्तरों पर सुरक्षाबलों की तैनाती कर दी गई है। लेकिन किसान अपनी जिद्द से पीछे नहीं हटने वाले। उनका कहना है कि जब तक सरकार अपने तीनों कृषि कानून को वापस नहीं लेगी, तब तक वे अपने आंदोलन को और तेज करेंगे।

आपको बता दें कि किसानों के ट्रैक्टर रैली के बीच किसान नेताओं ने बड़ा बयान दिया है। फरीदकोट (पंजाब)के ज़िला प्रधान बिंदर सिंह गोले वाला ने बताया,"आज 11 बजे हम अपना ट्रैक्टर मार्च शुरू करेंगे। हम यहां से टिकरी बॉर्डर तक जाएंगे। हमारा ये मार्च 26 जनवरी के लिए तैयारी है।" वहीं भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि,ट्रैक्टर रैली 26 जनवरी की तैयारी है। हमारा रूट यहां से डासना है उसके बाद अलीगढ़ रोड पर हम रुकेंगे वहां लंगर होगा फिर वहां से हम वापस आएंगे और नोएडा वाले ट्रैक्टर पलवल तक जाएंगे।हम सरकार को समझाने के लिए ये कर रहे हैं।

गौरतलब है कि 26 जनवरी को देश अपना गणतंत्र दिवस मनाता है, इस दिवस कई देशों के गणमान्य प्रमुख और अधिकारी शामिल होते है। जो भारत सरकार के निमंत्रण पर देश को आते है। वहीं किसानों का इस दिवस में विश्व के प्रमुख हेडलाइन में सुर्खियों के साथ ही अपनी मांगों को लेकर केंद्र सरकार पर दबाव बनाने का भी है। अब देखना यह है कि किसानों के इस रणनीतिक प्रदर्शन को लेकर केंद्र सरकार कौन सा कदम उठाती है। क्या 8 जनवरी को होने वाले किसान और सरकार के बीच बैठक में कोई नतीजा निकल पायेगा, अगर नहीं तो फिर क्या होगा...

आपको बता दें कि तीनों कृषि कानून को लेकर किसानों का प्रदर्शन 43वें दिन भी जारी रहा और वे लगातार अपने मांगों को लेकर सड़कों पर डटे हुए है।

From around the web