नीतीश की रैली में खाली कुर्सियां, क्या हार जाएगी बीजेपी ?

 

रिपोर्ट- रितिका आर्या

बिहार के मुजफ्फरपुर में जो नजारा देखने को मिला उसे देखकर लगता है कि भाजपा को इस बार चुनाव में मुंह की खानी पड़ सकती है। यह बात इसलिए क्योंकि मुजफ्फरपुर के सकरा में रैली के लिए पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की रैली में मौजूद कुर्सियां काफी खाली नजर आई। हांलाकी कुर्सियां तो खाली थी लेकिन नीतीश कुमार पूरे जोश से भरे दिखे।

पार्टी के लिए मांगा वोट

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रैली के दौरान मतदाताओं को लुभाते हुए कहा कि हमने सभी के लिए काम किया। पहले अति पिछड़ों को कौन पूछा था लेकिन हमने उनके लिए काम किया उन्हें आगे बढ़ने का अवसर दिया इतना ही नहीं उन्होंने कहा सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि उनके लिए पूरा बिहार ही परिवार है और उन्होंने न्याय के साथ ही विकास का काम किया है।

विपक्ष पर बोला हमला विपक्ष पर बोला

पार्टी के लिए वोट मांगने के साथ ही सीएम नीतीश कुमार ने विपक्ष पर भी हमला बोला विपक्ष पर हमला बोलते हुए सीएम कुमार ने कहा कि कुछ लोगों का ध्यान काम पर नहीं बल्कि बयानबाजी पर है लेकिन हम काम पर विश्वास रखते हैं और उन्हें कहा कि हमारा काम ही हमारे लिए एक प्रचार है और हम लोग काम करने वाले लोगों में है और अगर हमें आगे मौका मिलता है तो हम आपके लिए जरूर काम करेंगे।

लगातार प्रचार में जुटे हैं नीतीश, एक दिन में कर रहे हैं 3-3 रैलियां

बिहार के चुनावी रण में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लगातार मोर्चा संभाल रखा है। मुख्यमंत्री एक-एक दिन में तीन-तीन रैलियां कर रहे हैं। इस दौरान नीतीश कुमार जहां अपनी सरकार में किए गए कामों का बखान कर रहे हैं, साथ ही लालू-राबड़ी की सरकार में 'जंगलराज' का भी जिक्र करने से नहीं हिचक रहे हैं। साथ ही कहा कि हमारी सरकार ने अपराध नियंत्रण को लेकर काफी काम किया है।

From around the web