भारत की जी20 अध्यक्षता निर्णायक, कार्योन्मुखी होगी : पीएम मोदी

नई दिल्ली, 16 नवंबर (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कहा कि भारत की जी20 अध्यक्षता समावेशी, महत्वाकांक्षी, निर्णायक और कार्रवाई उन्मुख होगी।
 
भारत की जी20 अध्यक्षता निर्णायक, कार्योन्मुखी होगी : पीएम मोदी
भारत की जी20 अध्यक्षता निर्णायक, कार्योन्मुखी होगी : पीएम मोदी नई दिल्ली, 16 नवंबर (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कहा कि भारत की जी20 अध्यक्षता समावेशी, महत्वाकांक्षी, निर्णायक और कार्रवाई उन्मुख होगी।

इंडोनेशिया के बाली में जी-20 शिखर सम्मेलन के समापन सत्र के दौरान बोलते हुए, प्रधानमंत्री ने कहा, भारत ऐसे समय में जी20 की कमान संभाल रहा है जब दुनिया एक साथ भू-राजनीतिक तनाव, आर्थिक मंदी, बढ़ती खाद्य और ऊर्जा की कीमतों और (कोविड) महामारी के दीर्घकालिक दुष्प्रभावों से जूझ रही है। ऐसे समय में दुनिया जी20 की ओर उम्मीद से देख रही है।

आज, मैं आश्वस्त करना चाहता हूं कि भारत की जी20 अध्यक्षता समावेशी, महत्वाकांक्षी, निर्णायक और कार्रवाई उन्मुख होगी।

उन्होंने आगे कहा कि भारत के जी20 की अध्यक्षता के अगले एक साल में यह सुनिश्चित किया जाएगा कि फोरम नए विचारों की कल्पना करने और सामूहिक कार्रवाई में तेजी लाने के लिए एक वैश्विक प्रमुख प्रेरक के रूप में कार्य करे।

प्राकृतिक संसाधनों पर स्वामित्व की भावना आज संघर्ष को जन्म दे रही है, और पर्यावरण की दुर्दशा का मुख्य कारण बन गई है। धरती के सुरक्षित भविष्य के लिए संरक्षण की भावना ही समाधान है।

उन्होंने शिखर सम्मेलन के अंतिम दिन विश्व नेताओं की सभा को संबोधित करते हुए कहा, लाइफ यानी लाइफस्टाइल फॉर एनवायरनमेंट अभियान इसमें बड़ा योगदान दे सकता है। इसका उद्देश्य स्थायी जीवन शैली को एक जन आंदोलन बनाना है।

भारत 1 दिसंबर, 2022 को इंडोनेशिया से जी20 की अध्यक्षता ग्रहण करेगा, जो 20 नवंबर, 2023 तक जारी रहेगा।

प्रधानमंत्री ने आगे कहा, शांति और सुरक्षा के बिना, हमारी आने वाली पीढ़ियां आर्थिक विकास या तकनीकी नवाचार का लाभ नहीं उठा पाएंगी।

पीएम मोदी ने कहा, जी20 को शांति और सद्भाव के पक्ष में एक मजबूत संदेश देना है। ये सभी प्राथमिकताएं भारत की जी20 अध्यक्षता वन अर्थ, वन फैमिली, वन फ्यूचर की थीम में पूरी तरह से समाविष्ट हैं।

--आईएएनएस

पीके/एसकेपी

From around the web