भाजपा सरकार की निजीकरण की नीति के खिलाफ आरएसएस से जुड़े भारतीय मजदूर संघ ने किया जोरदार विरोध प्रदर्शन

नई दिल्ली, 17 नवंबर (आईएएनएस)। भाजपा सरकार की निजीकरण की नीति के खिलाफ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े मजदूर संगठन- भारतीय मजदूर संघ ने गुरुवार को दिल्ली में जोरदार विरोध प्रदर्शन किया।
 
भाजपा सरकार की निजीकरण की नीति के खिलाफ आरएसएस से जुड़े भारतीय मजदूर संघ ने किया जोरदार विरोध प्रदर्शन
भाजपा सरकार की निजीकरण की नीति के खिलाफ आरएसएस से जुड़े भारतीय मजदूर संघ ने किया जोरदार विरोध प्रदर्शन नई दिल्ली, 17 नवंबर (आईएएनएस)। भाजपा सरकार की निजीकरण की नीति के खिलाफ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े मजदूर संगठन- भारतीय मजदूर संघ ने गुरुवार को दिल्ली में जोरदार विरोध प्रदर्शन किया।

भारतीय मजदूर संघ-बीएमएस ने गुरुवार को दिल्ली के जंतर मंतर पर सरकारी एवं सार्वजनिक क्षेत्र में निजीकरण,निगमीकरण और विनिवेशीकरण की मोदी सरकार की नीति के विरोध में जोरदार विरोध प्रदर्शन किया। बीएमएस ने अपनी मांगों के संबंध में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम अपना ज्ञापन भी सौंपा।

आईएएनएस से बात करते हुए भारतीय मजदूर संघ के अखिल भारतीय सचिव गिरीश आर्य ने कहा कि संघ मुख्य तौर पर केंद्र सरकार से तीन मांगें कर रहा है। संघ यह चाहता है कि सार्वजनिक एवं सरकारी क्षेत्र की कंपनियों के निजीकरण की प्रक्रिया को तुरंत बंद किया जाए, रेलवे एवं रक्षा क्षेत्र से जुड़ी सरकार की प्रोडक्शन यूनिट के निजीकरण को रोका जाए और इन सेक्टर्स में काम करने वाले सभी कॉन्ट्रैक्ट वर्करों को नियमित किया जाए।

उन्होंने आगे बताया कि अपनी मांगों के संबंध में भारतीय मजदूर संघ के प्रतिनिधिमंडल ने केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात कर उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम अपना ज्ञापन भी सौंपा। इसके अलावा बीएमएस के प्रतिनिधिमंडल ने केंद्रीय भारी उद्योग राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर से भी मुलाकात कर अपनी मांगों को उनके सामने रखा।

बीएमएस का प्रतिनिधिमंडल आने वाले दिनों में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और केंद्रीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव से भी मुलाकात कर अपनी मांगों को उनके समक्ष रखेगा।

--आईएएनएस

एसटीपी/एएनएम

From around the web