बिहार में कानून का राज, इसे बनाए रखना सर्वोच्च प्राथमिकता : नीतीश

पटना, 16 नवंबर (आईएएनएस)। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में कानून का राज स्थापित है, इसे बनाए रखना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि कानून का राज कायम रखना सरकार का दायित्व है।
 
बिहार में कानून का राज, इसे बनाए रखना सर्वोच्च प्राथमिकता : नीतीश
बिहार में कानून का राज, इसे बनाए रखना सर्वोच्च प्राथमिकता : नीतीश पटना, 16 नवंबर (आईएएनएस)। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में कानून का राज स्थापित है, इसे बनाए रखना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि कानून का राज कायम रखना सरकार का दायित्व है।

मुख्यमंत्री बुधवार को गृह विभाग द्वारा नवनियुक्त 10,459 पुलिस पदाधिकारियों, कर्मियों के नियुक्ति पत्र वितरण समारोह में कहा कि पहले बिहार में सिर्फ 42 हजार 481 पुलिसकर्मी थे। जबसे हमें काम करने का मौका मिला है, अपराध नियंत्रण को ध्यान में रखते हुए हमने शुरू से ही पुलिस की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया है।

समारोह में नवनियुक्त 215 सार्जेंट, 1,998 सब इंस्पेक्टर एवं 8,246 सिपाहियों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया। इन नवनियुक्त 10,459 पुलिस पदाधिकारियों, कर्मियों में 3,852 महिलाएं शामिल हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2010 में देश में एक लाख की आबादी पर 115 पुलिसकर्मी थे, बिहार में यह संख्या कम थी। उसके अनुसार 1 लाख 52 हजार 232 और पुलिसकर्मियों की आवश्यकता थी। उन्होंने कहा कि हमने बहाली के काम में तेजी लाकर पुलिसकर्मियों की नियुक्ति करने का निर्देश दिया, जिसके बाद बिहार में अब तक 1 लाख 8 हजार से ज्यादा पुलिसकर्मियों की बहाली हो चुकी है।

उन्होंने कहा कि 1 लाख 52 हजार 232 पदों में से अभी भी 44 हजार पुलिसकर्मियों की बहाली होनी है। उन्होंने अधिकारियों से जल्द बहाली का निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी देश के अलग-अलग राज्यों में 1 लाख की आबादी पर 115 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की संख्या है जिसको ध्यान में रखते हुए बिहार में भी इसे बढ़ाकर 160 से 170 करने का निर्णय लिया गया है।

उन्होंने कहा कि पुलिसकर्मियों की बहाली के साथ ही प्रशिक्षण का काम भी समय सीमा के अन्दर पूरा हो। हर थाने में महिला पुलिस पदाधिकारी एवं कर्मियों को भी पदस्थापित रखें।

मुख्यमंत्री ने नियुक्ति पत्र लेने वालों से शराब का सेवन नहीं करने की अपील करते हुए कहा दूसरों को भी शराब का सेवन नहीं करने दीजिएगा।

समारोह में नवनियुक्त पुलिसकर्मियों ने मुख्यमंत्री के समक्ष दोनों हाथ उठाकर शराब का सेवन नहीं करने और दूसरों को भी शराब का सेवन नहीं करने देने का संकल्प लिया।

समारोह को उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव, ऊर्जा, योजना एवं विकास मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव, वित्त, वाणिज्य कर एवं संसदीय कार्य मंत्री विजय कुमार चौधरी, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी सहित कई लोग उपस्थित रहे।

--आईएएनएस

एमएनपी/एएनएम

From around the web