दक्षिण अफ्रीका में भारतीय मूल की नाबालिग का अपहरण

जोहान्सबर्ग, 14 नवंबर (आईएएनएस)। दक्षिण अफ्रीका की पुलिस भारतीय मूल की आठ साल की बच्ची की तलाश कर रही है, जिसे दो हफ्ते पहले केपटाउन के गेट्सविल में दो हथियारबंद लोगों ने अगवा कर लिया था।
 
दक्षिण अफ्रीका में भारतीय मूल की नाबालिग का अपहरण
दक्षिण अफ्रीका में भारतीय मूल की नाबालिग का अपहरण जोहान्सबर्ग, 14 नवंबर (आईएएनएस)। दक्षिण अफ्रीका की पुलिस भारतीय मूल की आठ साल की बच्ची की तलाश कर रही है, जिसे दो हफ्ते पहले केपटाउन के गेट्सविल में दो हथियारबंद लोगों ने अगवा कर लिया था।

रायलैंड्स प्राइमरी स्कूल की छात्रा अबीराह अपनी स्कूल की गाड़ी में बैठी थी, इसी दौरान 4 नवंबर की सुबह उसका अपहरण कर लिया गया।

केप टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, अबीराह के पिता सेलफोन व्यवसायी असलम हैं, उनकी माता का नाम सलमा है। अबीराह पांच भाई बहन हैं, जो रायलैंड्स में रहते हैं और मूल रूप से भारत के हैं। गेट्सविल नेबरहुड वॉच की चेयरपर्सन फौजिया वीरासामी ने कहा कि उन्होंने पुलिस को सीसीटीवी फुटेज सौंप दी है, लेकिन अभी तक कोई सुराग नहीं मिला है।

वीरसामी ने कहा कि एक गाड़ी में दो लोग आए और तमंचे के बल पर बच्ची को अगवा कर लिया। इस दौरान वह ड्राइवर का सेलफोन भी ले गए। दक्षिण अफ्रीकी पुलिस सेवा तब से ही जांच में जुटी है और मामले की संवेदनशीलता के कारण कुछ भी बोलने से बच रही है।

स्थानीय मीडिया रिपोटरें के अनुसार, अबीराह के अलावा पिछले कुछ समय से पश्चिमी केप में कम से कम 200 अपहरणों की घटनाएं सामने आ चुकी है, पीड़ितों में कुछ महीनों में ज्यादातर विदेशी नागरिक शामिल हैं।

स्थानीय मीडिया रिपोटरें के मुताबिक, ज्यादातर अपहरण फिरौती के लिए होते हैं। अबीराह के परिवार ने कहा कि वह उन लोगों के फोन का इंतजार कर रहे हैं जो उनकी बेटी को ले गए हैं। इस बीच, सैकड़ों गेट्सविल निवासियों ने अबीराह की तत्काल और सुरक्षित वापसी की मांग करते हुए एथलोन में पुलिस स्टेशन तक मार्च किया। प्रदर्शनकारियों ने नारे लगाए- हमें अबीराह चाहिए, हम न्याय चाहते हैं, अबीराह को वापस लाओ।

--आईएएनएस

केसी/एसकेपी

From around the web