तेलंगाना सरकार ने हैदराबाद मेट्रो रेल के दूसरे चरण के लिए केंद्र की मंजूरी मांगी

हैदराबाद, 14 नवंबर (आईएएनएस)। तेलंगाना के नगर प्रशासन और शहरी विकास मंत्री के.टी. रामा राव ने केंद्र से बाहरी वित्तीय सहायता के साथ केंद्र और राज्य की संयुक्त स्वामित्व वाली परियोजना के रूप में 8,453 करोड़ रुपये की लागत वाली हैदराबाद मेट्रो रेल चरण-2 परियोजना के लिए सैद्धांतिक मंजूरी देने का आग्रह किया है।
 
तेलंगाना सरकार ने हैदराबाद मेट्रो रेल के दूसरे चरण के लिए केंद्र की मंजूरी मांगी
तेलंगाना सरकार ने हैदराबाद मेट्रो रेल के दूसरे चरण के लिए केंद्र की मंजूरी मांगी हैदराबाद, 14 नवंबर (आईएएनएस)। तेलंगाना के नगर प्रशासन और शहरी विकास मंत्री के.टी. रामा राव ने केंद्र से बाहरी वित्तीय सहायता के साथ केंद्र और राज्य की संयुक्त स्वामित्व वाली परियोजना के रूप में 8,453 करोड़ रुपये की लागत वाली हैदराबाद मेट्रो रेल चरण-2 परियोजना के लिए सैद्धांतिक मंजूरी देने का आग्रह किया है।

केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री, हरदीप सिंह पुरी को लिखे पत्र में उस प्रस्ताव को 2023-24 के आगामी केंद्रीय बजट में शामिल करने का अनुरोध किया। नई मेट्रो लाइन 23 स्टेशनों के साथ 26 किमी लंबी होने का प्रस्ताव है।

उन्होंने परियोजना की व्याख्या के लिए केंद्रीय मंत्री से मिलने की मांग की। मंत्री ने कहा, प्रसंस्करण में देरी से बचने के लिए परियोजना की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) (डीएमआरसी द्वारा तैयार) और अन्य संबंधित दस्तावेज 27 अक्टूबर को तेलंगाना सरकार द्वारा केंद्र को भेजे गए थे।

यह देखते हुए कि हैदराबाद विशेष रूप से 2019-20 के बाद से रियल एस्टेट क्षेत्र की तिमाही और साल दर साल वृद्धि के मामले में सबसे तेजी से बढ़ने वाला महानगरीय शहर है, उन्होंने कहा कि कोविड के बाद के परि²श्य में सभी कार्यालयों को खोलने के साथ विस्तार की आवश्यकता है और सार्वजनिक परिवहन प्रणाली को मजबूत करने पर जोर देने की जरूरत नहीं है।

हैदराबाद मेट्रो रेल परियोजना के 69 किलोमीटर से अधिक के चरण-1 को सफलतापूर्वक कार्यान्वित किया गया और पूरी तरह से परिचालित किया गया। यह केंद्र की वीजीएफ योजना के तहत पीपीपी मोड में दुनिया की सबसे बड़ी मेट्रो रेल परियोजना है।

--आईएएनएस

केसी/एसजीके

From around the web