केंद्रीय एजेंसी भाजपा के दबाव में बना रही चार्जशीट : तृणमूल

कोलकाता, 16 नवंबर (आईएएनएस)। पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस ने बुधवार को भाजपा पर आरोप लगाया कि वह अपनी शक्ति का दुरुपयोग कर रही है और केंद्रीय एजेंसियों पर आरोप पत्र तैयार करने का दबाव बना रही है, जिसका इस्तेमाल बाद में पार्टी नेताओं के खिलाफ झूठे अभियान चलाने के लिए किया जा सकता है।
 
केंद्रीय एजेंसी भाजपा के दबाव में बना रही चार्जशीट : तृणमूल
केंद्रीय एजेंसी भाजपा के दबाव में बना रही चार्जशीट : तृणमूल कोलकाता, 16 नवंबर (आईएएनएस)। पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस ने बुधवार को भाजपा पर आरोप लगाया कि वह अपनी शक्ति का दुरुपयोग कर रही है और केंद्रीय एजेंसियों पर आरोप पत्र तैयार करने का दबाव बना रही है, जिसका इस्तेमाल बाद में पार्टी नेताओं के खिलाफ झूठे अभियान चलाने के लिए किया जा सकता है।

यह बयान केंद्रीय एजेंसियों द्वारा विभिन्न घोटालों में सत्तारूढ़ पार्टी के नेताओं के नाम तेजी से आने के मद्देनजर सामने आया है।

पार्टी के प्रदेश महासचिव और पश्चिम बंगाल में पार्टी के प्रवक्ता कुणाल घोष के मुताबिक, बीजेपी केंद्रीय एजेंसियों पर चार्जशीट में कुछ लिखने का दबाव बना रही है, जिसका इस्तेमाल पार्टी झूठे प्रचार और घटिया राजनीति के लिए कर सकती है।

हालांकि, उन्होंने दावा किया कि ट्रायल खत्म होने के बाद ये सभी फर्जी दावे बेबुनियाद साबित होंगे।

घोष ने कहा कि केंद्रीय एजेंसियों द्वारा चार्जशीट प्रस्तुतियां मात्र हैं और जरूरी नहीं कि उनमें उल्लिखित आरोपों का प्रमाण हो। बीजेपी इसका दुरुपयोग करने की कोशिश कर रही है।

काफी समय से तृणमूल कांग्रेस नेतृत्व यह तर्क दे रहा है कि केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) जैसी केंद्रीय एजेंसियां भाजपा के इशारे पर काम कर रही हैं। लेकिन यह पहली बार है कि राज्य की सत्ताधारी पार्टी के किसी नेता ने गंभीर आरोप लगाया है कि चार्जशीट बीजेपी के दबाव में तैयार की जा रही है।

इस तरह के आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता और पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के नेताओं के ट्रैक रिकॉर्ड उनके खिलाफ लगाए गए आरोपों की पुष्टि करते हैं।

उन्होंने कहा, सीबीआई जांच कलकत्ता उच्च न्यायालय के आदेशों के बाद की जा रही है और कुछ मामलों में जांच अदालत की निगरानी में होती है। अदालतों में दैनिक आधार पर जो कुछ भी सामने आता है, वह भ्रष्टाचार की गंभीरता को साबित करता है।

--आईएएनएस

पीके/एसकेपी

From around the web