कमलनाथ ने मंदिर वाला केक काटा, गौरी और गजनवी की याद आई-मिश्रा

भोपाल, 17 नवंबर (आईएएनएस)। छत्तीसगढ़ की मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष कमल नाथ द्वारा मंदिर की आकृति वाले केक को काटे जाने के मामले पर सियासत गर्म है। राज्य के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने यहां तक कह दिया है कि, इससे मोहम्मद गौरी और महमूद गजनवी तक की याद आ गई है।
 
कमलनाथ ने मंदिर वाला केक काटा, गौरी और गजनवी की याद आई-मिश्रा
कमलनाथ ने मंदिर वाला केक काटा, गौरी और गजनवी की याद आई-मिश्रा भोपाल, 17 नवंबर (आईएएनएस)। छत्तीसगढ़ की मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष कमल नाथ द्वारा मंदिर की आकृति वाले केक को काटे जाने के मामले पर सियासत गर्म है। राज्य के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने यहां तक कह दिया है कि, इससे मोहम्मद गौरी और महमूद गजनवी तक की याद आ गई है।

ज्ञात हो कि छिंदवाड़ा प्रवास के दौरान कमल नाथ ने अपने जन्म दिन पर एक महिला द्वारा लाए गए केक को काटा था, जिस पर मंदिर का अक्स था और हनुमान जी की तस्वीर भी नजर आ रही है। इस केक केा कमल नाथ ने काटा। तस्वीर वायरल हुई और सियासत गर्माई।

राज्य के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इस केक काटने को लेकर जोरदार हमला बोला और कहा, मंदिर की प्रतिकृति पर भगवान हनुमानजी की मूर्ति और उसका बर्थडे केक बनाकर टुकड़े-टुकड़े कर देना, सनातनी होने का दावा करने वाले लोग मंदिर और मूर्तियों का ध्वस्त करने का ऐसा कृत्य मोहम्मद गौरी और महमूद गजनवी ने किया था। यह उनकी याद दिला देता है।

उन्होंने आगे कहा, मानसिकता बदलिये कमलनाथ जी.. आस्थाओं पर कुठाराघात मत करिये। चुनावी हिंदू मत बनिये। आप और आपके नेता राहुल गांधी की पूरी यात्रा में मंदिर कहीं नहीं गए और मध्यप्रदेश में आने पर नया विवाद खड़ा करते हैं। यह विवाद जो आप जान बुझकर धर्म के खड़े करते हैं। अभी दो दिन पहले जूते पहनकर भजन गाए जा रहे थे। ऐसा मत करिये। लगातार कुठाराघात मत करिये और मंदिर की प्रतिलिप के टूकड़े-टूकड़े किए हैं, उसके लिए भगवान से माफी मांगिये।

--आईएएनएस

एसएनपी/एएनएम

From around the web