उदयपुर आने वाले जी20 के प्रतिनिधियों को दिए जाएंगे पारंपरिक उपहार

जयपुर, 17 नवंबर (आईएएनएस)। अगले महीने होने वाली जी20 शेरपा बैठक में भाग लेने के लिए उदयपुर आने वाले प्रतिनिधियों को थेवा कलाकृति, चमड़े की मोजरी, टेराकोटा की मूर्तियां, संगमरमर के फूलदान और शहद सहित राजस्थान के मूल उपहार भेंट किए जाएंगे।
 
उदयपुर आने वाले जी20 के प्रतिनिधियों को दिए जाएंगे पारंपरिक उपहार
उदयपुर आने वाले जी20 के प्रतिनिधियों को दिए जाएंगे पारंपरिक उपहार जयपुर, 17 नवंबर (आईएएनएस)। अगले महीने होने वाली जी20 शेरपा बैठक में भाग लेने के लिए उदयपुर आने वाले प्रतिनिधियों को थेवा कलाकृति, चमड़े की मोजरी, टेराकोटा की मूर्तियां, संगमरमर के फूलदान और शहद सहित राजस्थान के मूल उपहार भेंट किए जाएंगे।

अधिकारियों ने आईएएनएस से पुष्टि की कि, 4-7 दिसंबर को होने वाली बैठक के दौरान उदयपुर में एक विशेष प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा, जिसमें एक जिला एक उत्पाद (ओडीओपी) कार्यक्रम के तहत आइटम प्रदर्शित किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि, इनमें से किसी भी उत्पाद को पसंद करने वाले प्रतिनिधि इसके लिए ऑर्डर दे सकते हैं, जिसे बाद में उन्हें भेजा जा सकता है।

प्रदर्शित की जाने वाली कुछ वस्तुओं में उदयपुर के मार्बल फूलदान, प्रपतगढ़ से थेवा टाई पिन और पेंडेंट, जालोर से चमड़े की मोजरी, जोधपुर से लकड़ी और लोहे का दर्पण, भरतपुर का शहद, चूरू से लकड़ी की अलमारी और स्विस ब्लू पुखराज, दौसा के सूती कुशन कवर, जयपुर से ब्लू पॉटरी प्लेट और पॉट मटकी इत्यादि होगें।

राजस्थान लघु उद्योग निगम लिमिटेड के अधिकारियों ने पुष्टि की कि, राजस्थान से ओडीओपी उत्पादों की एक व्यापक सूची दिल्ली भेजी गई है जिसे जी20 प्रतिनिधियों को उपहार में दिया जा सकता है।

सूची में नीले मिट्टी के बर्तनों की टाइलें, कटोरे, पेन स्टैंड, संगमरमर की प्लेटें, चांदी-सोना पॉलिश किया हुआ सिक्का (100 ग्राम), रोज क्वाट्र्ज हाथी, चांदी का हार, रत्न की पेंटिंग आदि शामिल हैं।

--आईएएनएस

पीटी/एसकेपी

From around the web