MP CM Mohan Yadav Abused Public Viral Viral Fact Check
MP CM Mohan Yadav Abused Public Viral Viral Fact Check

मध्यप्रदेश के नवनियुक्त सीएम मोहन यादव का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें उन्हें जनता के बीच घिरे हुए देखा जा सकता है। इस वीडियो को शेयर कर सोशल मीडिया पर लोग दावा कर रहे हैं कि मोहन यादव मुख्यमंत्री बनने के बाद जनता के सामने गाली-गलौज कर रहे हैं।

क्या है वायरल?

दरअसल, ‘adiwasi_model_mp46_’ नाम के इंस्टाग्राम यूजर ने ये वीडियो अपने हैंडल पर शेयर किया है और साथ ही लिखा है, “मोहन यादव जी द्वारा जनता का अपमान किस प्रकार किया जा रहा है।” वहीं इसके साथ वीडियो के ऊपर लिखा है – “मध्‍यप्रदेश के नए मुख्‍यमंत्री जी तो अभी से MC BC कर रहे हैं।”

इस वीडियो को सच मानकर सोशल मीडिया पर कई और यूजर्स इस वीडियो को समान दावे के साथ शेयर कर रहे हैं।

हालांकि टूडे समाचार ने अपनी पड़ताल में पाया है कि इस वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा पूरी तरह से भ्रामक है। दरअसल, ये वायरल वीडियो काफी पुराना है और इसका मोहन यादव के मुख्‍यमंत्री बनने से कोई संबंध नहीं है।

फैक्टचेक

टूडे समाचार ने सबसे पहले गूगल इनविड टूल की मदद से अपनी जांच की शुरूआत की। इस दौरान हमारी टीम ने इस वीडियो के कुछ कीफ्रेम्स निकाले और उसे गूगल रिवर्स इमेज की मदद से सर्च किया तो वनइंडिया हिंदी नाम के एक यूट्यूब चैनल पर हमें एक वीडियो मिली, जिसे 12 दिसंबर 2023 को अपलोड किया गया था। इस वीडियो में लिखा हुआ था कि मध्यप्रदेश के नए सीएम मोहन यादव का गाली देने वाला वीडियो वायरल। वहीं इस रिपोर्ट में हमें पता लगा कि ये वीडियो काफी पुराना है, जो अब वायरल हुआ है।

वहीं इसके बाद इस पड़ताल के दौरान हमें फेसबुक पर उपेंद्र यादव नाम के एक यूजर के हैंडल पर इस वीडियो का ओरिजिनल और बडा वर्जन मिला, जिसे 28 नवंबर 2018 को अपलोड किया गया था।

फेसबुक यूजर ने इस वीडियो को अपलोड करते हुए कैप्शन में लिखा था – “ये बौखलाहट क्या कहती है। यह हैं उज्जैन दक्षिण विधानसभा के वर्तमान भाजपा विधायक मोहन यादव जो दलित समाज के दीपक मेहरे को खुलेआम माँ-बहन की गाली देते हुए वीडियो में देखें जा सकते हैं। आपने राजनीति शास्त्र में पीएचडी भी की है इसलिए डा.मोहन यादव लिखते हैं आप विधायक बनने से पहले मध्यप्रदेश पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। आप उज्जैन विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष भी रह चुके हैं।”

वायरल वीडियो पर अधिक स्पष्टिकरण के लिए टूडे समाचार ने पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए नईदुनिया के मध्य प्रदेश के ब्यूरो चीफ धनंजय प्रताप सिंह से संपर्क किया। इस दौरान वायरल वीडियो का जिक्र किए जाने पर उन्होंने कहा कि, “यह वीडियो विधानसभा चुनाव के वक्‍त भी वायरल किया गया था। काफी पुराना वीडियो है।”

टूडे समाचार इस वायरल वीडियो में इस्तेमाल किए शब्दों की पुष्टि नहीं करता है, लेकिन हमारी पड़ताल से ये साफ है कि ये वीडियो साल 2018 से ही वायरल हो रहा है।

ऐसे में हमारी पड़ताल से ये साबित हो गया है कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव का सीएम बनने के बाद गाली गलौज वाला वीडियो भ्रामक है। ये वीडियो साल 2018 में मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के वक्‍त भी वायरल हुआ था।

Verify information accuracy with fact-checking: scrutinize claims, cross-reference sources, and confirm data to ensure reliability and combat misinformation.