वैक्सीन का इंतजार खत्म, स्प्रे से होगा कोरोना खत्म!

 

नई दिल्ली : देश में जारी कोरोना महामारी की रफ्तार लगातार तेज होती जा रहा है, जिसपर अंकुश लगाना अभी संभव नहीं दिख रहा। इसी बीच ऑस्ट्रेलिया से एक ऐसी खबर सामने आई है, जिसने कोरोना के बढ़ती रफ्तार को अंकुश लगा दिया है। गौरतलब है कि ऑस्ट्रेलिया की एक बायोटेक कंपनी का कहना है कि उसके नेजल स्प्रे से कोरोना वायरस का ग्रोथ घट जाता है।

रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, 'एना रेसपिरेटरी' कंपनी का कहना है कि INNA-051 नाम के प्रॉडक्ट का अध्ययन फेरट जीव के ऊपर की गई थी। इस दौरान पता चला कि नेजल स्प्रे कोरोना वायरस में 96 फीसदी तक की कमी लाता है। कंपनी का कहना है कि अगर अगले राउंड के ट्रायल में नेजल स्प्रे INNA-051 सफल रहता है तो वैक्सीन के साथ-साथ इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

आपको बता दें कि शुरुआती स्टडी का नेतृत्व ब्रिटेन की सरकारी एजेंसी पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड ने किया था। कंपनी का कहना है कि वह चार महीने के भीतर नेजल स्प्रे INNA-051 का ह्यूमन ट्रायल शुरू कर सकती है। हालांकि, इससे पहले यह साबित करना होगा कि यह टॉक्सिक नहीं है और फिर ट्रायल के लिए मंजूरी दी जाएगी। स्टडी की माने तो यह अध्ययन सिर्फ अभी तक जानवरों पर की गई है।

अगर हम दुनियाभर में कोरोना केस की बात करें तो अब तक दुनिया में कोरोना वायरस के 3 करोड़ 33 लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 10 लाख 2 हजार से अधिक लोगों की कोरोना से मौत भी हो चुकी है। बता दें कि कोरोना के सबसे अधिक मामले अमेरिका और भारत में सामने आए हैं। अब हम बात करें वैक्सीन की, तो आपको बता दें कि अभी तक किसी देश ने कोरोना महामारी से निजात दिलाने के लिए कोरोना वैक्सीन में सफलता हासिल नहीं की है।

From around the web