जकार्ता-बांडुंग हाई-स्पीड रेलवे का टेस्ट रन पूरी तरह सफल

बीजिंग, 17 नवंबर (आईएएनएस)। एक हाई-स्पीड रेलवे के लिए निरीक्षण वाहन ने 16 नवंबर को टेगल लुआर स्टेशन से नंबर 4 पुल के बीच की लाइन पर व्यापक निरीक्षण किया, प्राप्त सभी सूचकांक बेहतर हैं। यह इसका द्योतक है कि चीन और इंडोनेशिया के सहयोग निर्माण वाले जकार्ता-बांडुंग हाई-स्पीड रेलवे का पहला टेस्ट रन पूरी तरह सफल रहा है।
 
जकार्ता-बांडुंग हाई-स्पीड रेलवे का टेस्ट रन पूरी तरह सफल
जकार्ता-बांडुंग हाई-स्पीड रेलवे का टेस्ट रन पूरी तरह सफल बीजिंग, 17 नवंबर (आईएएनएस)। एक हाई-स्पीड रेलवे के लिए निरीक्षण वाहन ने 16 नवंबर को टेगल लुआर स्टेशन से नंबर 4 पुल के बीच की लाइन पर व्यापक निरीक्षण किया, प्राप्त सभी सूचकांक बेहतर हैं। यह इसका द्योतक है कि चीन और इंडोनेशिया के सहयोग निर्माण वाले जकार्ता-बांडुंग हाई-स्पीड रेलवे का पहला टेस्ट रन पूरी तरह सफल रहा है।

इस टेस्ट रन का उद्देश्य मुख्य रूप से निरीक्षण वाहन द्वारा रोडबेड, ट्रैक, संचार, सिग्नल, ट्रैक्शन पावर सप्लाई आदि प्रणालियों का व्यापक निरीक्षण करना है। प्राप्त 60 से अधिक मापदंड पूरी तरह से डिजाइन आवश्यकताओं को पूरा करते हैं। इसने जकार्ता-बांडुंग हाई-स्पीड रेलवे के बाद के निर्माण और संचालन के लिए ठोस नींव रखी है।

बता दें कि जकार्ता-बांडुंग हाई-स्पीड रेलवे इंडोनेशिया और दक्षिण पूर्व एशिया में पहला हाई-स्पीड रेलवे है। यह इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता और प्रसिद्ध पर्यटन शहर बांडुंग को जोड़ता है। इसकी कुल लंबाई 142 किलोमीटर है, और अधिकतम परिचालन गति 350 किलोमीटर प्रति घंटा है। इस हाई-स्पीड रेलवे का निर्माण जून 2018 में शुरू हुआ। यह बेल्ट एंड रोड निर्माण और चीन और इंडोनेशिया के बीच व्यावहारिक सहयोग की एक प्रतीकात्मक परियोजना है, रेलवे की पूरी लाइन में चीनी तकनीक और चीनी मानकों का इस्तेमाल किया गया है। इसका निर्माण पूरा हो जाने के बाद जकार्ता और बांडुंग के बीच यात्रा का समय वर्तमान ??3 घंटे से कम होकर 40 मिनट रह जाएगा।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

--आईएएनएस

एएनएम

From around the web