साल के मध्य तक UP को मिलेगा देश का दूसरा सबसे लंबा एक्सप्रेसवे, 120 किमी प्रति घंटा की स्पीड से दौड़ सकेगी गाड़ियां

Today Samachar Desk

By Today Samachar Desk

Published on:

जानें गंगा एक्सप्रेसवे के बारे में, जो 2025 से पहले उत्तर प्रदेश को देश का दूसरा सबसे लंबा एक्सप्रेसवे बनाएगा:

गंगा एक्सप्रेसवे का निर्माण:

महाकुंभ 2025 से पहले, उत्तर प्रदेश में गंगा एक्सप्रेसवे का निर्माण होगा, जो देश का दूसरा सबसे लंबा एक्सप्रेसवे बनेगा। इस एक्सप्रेसवे की लंबाई 594 किमी होगी और यह मुंबई-नागपुर एक्सप्रेसवे के बाद देश का दूसरा सबसे लंबा एक्सप्रेसवे बनेगा।

उत्तर प्रदेश का एक्सप्रेसवे हब:

उत्तर प्रदेश देश का सर्वाधिक एक्सप्रेसवे वाला राज्य है, जिसमें वर्तमान में छह एक्सप्रेसवे संचालित हैं और सात निर्माणाधीन हैं। इसके साथ ही, गंगा एक्सप्रेसवे के संचालन के साथ ही यूपी देश के शीर्ष 10 एक्सप्रेसवे में पांचवे स्थान पर पहुंचेगा, जो वर्तमान में चार हैं।

मुख्यमंत्री के निर्देश:

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाल ही में यूपीडा के अधिकारियों को साल के अंत तक गंगा एक्सप्रेसवे को संचालित करने के निर्देश दिए हैं, जो पूरे प्रदेश को पूर्ब से पश्चिम तक जोड़ेगा।

यातायात को बढ़ावा:

गंगा एक्सप्रेसवे महज कुछ घंटों में मेरठ से हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, संभल, बदायूं, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, और प्रतापगढ़ जैसे जिलों को जोड़ेगा।

अन्य महत्वपूर्ण विवरण:

इस एक्सप्रेसवे के बाद, बड़े विमान, गंगा और रामगंगा पर बनेंगे दो लंबे सेतु, जो यातायात को और भी सुगम बनाएगें। इसके अलावा, गंगा नदी और रामगंगा नदी पर बड़े सेतु का निर्माण होगा।

निर्माण में बड़ी कंपनियां शामिल:

इस महत्वपूर्ण परियोजना में, मेसर्स आईआरबी इंफ्रास्ट्रक्चर और मेसर्स अडाणी इंफ्रास्ट्रक्चर जैसी बड़ी कंपनियां शामिल हैं, जो इसे और भी महत्वपूर्ण बना रही हैं।

गंगा एक्सप्रेसवे का निर्माण एक ऐतिहासिक कदम है जो उत्तर प्रदेश को विशेष रूप से और भी सुगम यातायात के साथ जोड़ने का प्रयास कर रहा है। यह प्रोजेक्ट राज्य की आर्थिक विकास को और भी बढ़ावा देगा और लोगों को तेजी से यात्रा करने का सुझाव देगा।

Today Samachar Desk

Follow the latest breaking news and developments from India and around the world with Today Samachar' Newsdesk. From politics , Entertainment and policies to the economy and the environment, from local issues to national events and global affairs, we've got you covered. Contact us on- todaysamachar26@gmail.com