लॉकडाउन में बच्चों को 42 लीटर ब्रेस्ट मिल्क डोनेट कर चुकी ये फिल्ममेकर और प्रोड्यूसर

 

रिपोर्ट- रितिका आर्या

42 साल की फिल्ममेकर और प्रोड्यूसर निधि परमार हीरनंदानी ने कोरोना काल की वजह से लगे लॉकडाउन में 42 लीटर ब्रेस्ट मिल्क डोनेट किया है। अपने इस काम को लेकर हीरानंदानी ने जानकारी देते हुए कहा कि जब उन्होंने अपने बच्चे को जन्म दिया तो उन्हें इस बात का एहसास हुआ कि उनके पास जरूरत से अधिक ब्रेस्ट मिल्क स्टोर्ड है जिसे लेकर उन्होंने अपने परिवार और दोस्तों से इस बारे में जानकारी ली लेकिन उन्हें जो सुझाव मिले वो उन्हें पसंद नहीं आए। उसके बाद आखिरकार उन्होंने अपने ब्रेस्ट मिल्क को डोनेट करने का फैसला किया।

हीरानंदानी का कहना है कि जब अपनी समस्या को लेकर इंटरनेट पर उपाय ढूंढने की कोशिश की तो उन्होंने देखा कि अमेरिका में ब्रेस्ट मिल्क डोनेशन चलता है। जिसके बाद उन्होंने अपने घर के आस पड़ोस में ब्रेस्ट मिल्क डोनेशन सेंटर्स की तलाश शुरू की। निधि की गाइनेकोलॉजिस्ट ने उन्हें मुंबई के एक ऐसे अस्पताल के बारे में जानकारी दी जो पिछले 1 साल से ब्रेस्ट मिल्क बैंक का संचालन कर रहा है। हालांकि निधि के डोनेशन से पहले ही पूरे देश में लॉकडाउन लगा दिया गया लेकिन अस्पताल की ओर से निधि को इस बात का आश्वासन दिया गया कि उनके घर आकर जीरो कांटेक्ट के द्वारा भी डोनेशन पूरा हो सकता है जिसके बाद इस साल मई से लेकर अब तक हीरानंदानी करीब 42 लीटर ब्रेस्ट मिल्क सूर्या अस्पताल के नियोनेटल इंटेंसिव केयर यूनिट में डोनेट कर चुकी है। इस अस्पताल में 65 एक्टिव बेड्स हैं। इस अस्पताल में ज्यादातर बच्चे प्रीमेच्योर हैं और उनका वजन सामान्य से कम है।

निधि ने कहा कि मैं हाल ही में अस्पताल गई थी और मैं देखना चाह रही थी कि मेरी डोनेशन का कैसे इस्तेमाल किया जा रहा है और मैंने देखा कि लगभग 60 ऐसे बच्चे थे जिन्हें दूध की जरूरत थी और फिर मैंने फैसला किया कि मैं अगले एक साल तक कोशिश करूंगी कि इन बच्चों को दूध डोनेट कर सकूं।

निधि ने ये भी कहा कि ब्रेस्ट मिल्क को लेकर हमारे समाज में खुलकर बातचीत नहीं होती है और लोग इसे टैबू की तरह देखते हैं। इससे पहले एक्ट्रेस नेहा धूपिया भी ब्रेस्ट मिल्क डोनेशन पर बात कर चुकी हैं। गौरतलब है कि निधि सांड की आंख जैसी फिल्मों से जुड़ी रही हैं।

From around the web