सुशांत सुसाइड मामले को लेकर महाराष्ट्र गृह मंत्री देशमुख का बड़ा बयान, कहा- बदनाम करने का काम किया

 

नई दिल्ली : सुशांत सुसाइड मामले के तकरीबन 4 माह से अधिक का समय हो गया है, लेकिन अभी तक सुशांत सुसाइड के कारणों का पता नहीं चल सका है। आपको बता दें कि अब इस केस की जांच CBI कर रही हैं, लेकिन अभी भी कुछ ऐसे सबूत हाथ नहीं लगे है, जिससे यह कहा जा सकें की आखिर यह सुशांत के सुसाइड की असली वजह।  

आपको बता दें कि सुशांत सुसाइड मामले के रहस्यों से पर्दा उठाने के लिए एक बार फिर सुशांत के विसरा जांच की गई, जिसका रिपोर्ट 28 सितंबर को एम्स ने कोर्ट के समक्ष रख दिया। जिसके बाद आज यानी 29 सितंबर को सुशांत के विसरा रिपोर्ट को कोर्ट ने खोला, जिससे ये बातें स्पष्ट हो सके की आखिर एम्स के विसरा रिपोर्ट में क्या है? कोर्ट ने जब इस रिपोर्ट को पढ़ा तो यह रिपोर्ट पहले के ही विसरा रिपोर्ट से मेल खाता था। यानी की सुशांत के शरीर में किसी तरह का ज़हर नहीं था।

एम्स के इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि आज एम्स की रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हो गई कि किसी भी प्रकार का ज़हर सुशांत के शरीर में नहीं था। सुशांत सिंह मामले की जांच बहुत ही प्रोफेशनली की जा रही थी। जिस प्रकार की राजनीति खेली गई उसमें महाराष्ट्र और मुंबई पुलिस को बदनाम करने का काम किया गया।

आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले ही शिवसेना नेता संजय राउत की मुलाकात, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस से हुई थी, जिसके बाद से ये कयास लगाये जाने लगे कि महाराष्ट्र में एक बार फिर बीजेपी की सरकार बन सकती है।

From around the web