Delhi Crime: आरोपी हवलदार की काली करतूत,क्या है राज़ महिला सिपाही की लाश और कॉल गर्ल का

Avatar

By Zainub Malik

Published on:

Delhi Crime: आरोपी हवलदार की काली करतूत,आज से लगभग 2 साल पहले एक महिला पुलिसकर्मी ने दिल्ली में हत्या कर दी थी जिसका सच पुलिस के सामने अब आया है.

महिला पुलिसकर्मी के शव को एक नाले से बाहर निकाला गया था.जिसे देख कर सब, जिसे देख कर सब असमंजस में पढ़ गए,

आखिर एक पुलिसकर्मी की हत्या कौन कर सकता है?लाश को पत्थर से बांध कर फेंक दिया गया था ताकि वहां नाली के अंदर ही पड़ा रहे.

और पुलिस फोर्स ने महिला पुलिस कर्मियों के हत्यारों को गिरफ़्तार कर लिया है अब पूरा सच खुल के सामने चुका है एक ऐसा सच जिसे सुनकर आपकी भी रोंगटे खड़े हो जायेंगे.

हवलदार ही निकला आरोपी

क्या महिला पुलिस कर्मियों की हत्या का ज़िम्मादार और कोई नहीं बल्कि एक हवलदार ही है.हवलदार सुरेंद्र ने ही महिला पुलिसकर्मी की हत्या की थी और शव नाले में फेंक दिया था.

जब बाकी पुलिस फोर्स का ध्यान इस हवलदार पर गया तब उसने इशारा करके बताया कि लाश नाले में पड़ी है.

आरोपी पिछले 2 साल के आरोपी पिछले 2 साल से सभी पुलिस वालों को गुमराह कर रहा था.और इस मर्डर को छुपा के रखा गया था.

महिला सिपाही मोनिका सिंह की हत्या

जिस महिला सिपाही की हत्या की गई है उसका पूरा नाम मोनिका सिंह है हत्या करने के बाद सुरेंद्र सिंह ने अपनी बहनोई स्वजन की मदद से पूरी पुलिस और मोनिका के परिवार को गुमराह किया.

मोनिका सिंह के परिजनों को अलग-अलग तरह से बातें घुमा फिरा कर बताया करता था, अलग-अलग शहरों से फोन करवाया करता था.उसने अपनी बहन से फोन करवा कर यह भी करवाया था

कि मोनिका अपनी मर्जी से गायब हुई है और अपने एक प्रेमी के साथ ख़ुशी ख़ुशी अकेली रह रही है.और कोई भी मोनिका को ढूंढने की कोशिश ना करें.

हवलदार सुरेंद्र सिंह मुखर्जी नगर के थाने में भी जाता था ताकि कोई भी पुलिसकर्मी उस पर शक ना करें

यह भी पढ़ेंविकास की तरफ बढ़ रहा भारत, हर इंडस्ट्री के लिए तैयार हो रहे Robots

2 साल पहले की थी हत्या

साल 2018 में सुरेंद्र सिंह और मोनिका सिंह दोनों की भरती पीसीआर यूनिट में हुई थी.फिर धीरे-धीरे दोस्ती प्यार में बदल गई

हलांकि सुरेंद्र सिंह पहले से ही शादीशुदा था लेकिन उसके बाद भी उसने ये बात मोनिका से छुपाई.और मोनिका लगातार शादी करने का दबाव बना रही था.

लेकिन मोनिका तैयार नहीं थी इसके बुरे हवलदार सुरेंद्र सिंह ने मोनिका को साल 2021 में पहले अगवा किया और उसके बाद हत्या कर दी.

इसके बाद डेडबॉडी को पत्थर से बांध कर बुराड़ी पुश्ता के पास वाले नाले में फेक दिया.इस राज़ को छुपाने में सुरेंद्र सिंह ने एक कॉल गर्ल की भी मदद ली थी

जिसके साथ वह पिछले वर्ष देहरादून ऋषिकेश मसूरी घुमने गया था और अलग-अलग होटलों में ठहरता था

यह भी पढ़ें

Avatar

Dedicated professionals who write about cinema and television in all their vibrancy. Expect views, reviews and news.