Corona Vaccine Viral Message Fact Check
Corona Vaccine Viral Message Fact Check

साल 2023 के अंत में एक बार फिर कोरोना वायरस ने रफ्तार पकड़ ली और ऐसा होते ही सोशल मीडिया पर इससे जुड़े कई वायरल मैसेज और दावे भी जमकर वायरल होने लगे हैं। इस बीच हाल ही में सोशल मीडिया पर एक मैसेज जमकर वायरल हो रहा है, जिसमें लोगों को सचेत किया जा रहा है कि कोरोना वैक्सीन को लेकर एक कॉल आएगी, जिसमें आपसे 1 या 2 विकल्प चुनने को दिया जाएगा, लेकिन 1 या 2 दबाते ही फोन हैंग हो जाएगा और आपके बैंक की डिटेल चोरी कर ली जाएगी।

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ कोरोना वैक्सीन से जुड़ा मैसेज

दरअसल, Danish Khan नाम के एक फेसबुक यूजर ने इस वायरल मैसेज को शेयर किया है और इसे महाराष्ट्र पुलिस की एडवाइजरी बताया है। इस मैसेज में लिखा गया है, “अगर आपके पास कॉल आए और पूछा जाए कि क्या आपने कोरोना वैक्सीन ले ली है, तो 1 दबाएं, अगर नहीं लिया है, तो आपको 2 दबाने का विकल्प बताया जाएगा, लेकिन अगर आप एक या दो नंबर दबाते हैं, तो आपका मोबाइल हैंग हो जाएगा और आपकी सारी बैंक डिटेल्स बंद हो जाएंगी। कॉलर के पास जाएगा, इसलिए अगर आपके पास ऐसी कोई कॉल आए तो तुरंत कट करें, इस मैसेज को हर जगह भेजें।
महाराष्ट्र-पुलिस”

वहीं इसके अलावा फेसबुक यूजर Sudhir Godara (आर्काइव लिंक) ने इस मैसेज को शेयर किया है और साथ ही इसे जयपुर पुलिस द्वारा जारी की गई एडवाइजरी बताया है।

हालांकि टूडे समाचार ने अपनी पड़ताल में पाया है कि राजस्थान या महाराष्ट्र पुलिस की तरफ से ऐसा कोई भी मैसेज जारी नहीं किया गया है और ये वायरल दावा पूरी तरह से फर्जी है।

फैक्टचेक

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जब टूडे समाचार की टीम ने इस वायरल मैसेज की पड़ताल शुरू की और इससे जुडे कुछ कीवर्ड्स की तलाश की तो ऐसी कोई भी जानकारी हमें गूगल पर नहीं मिली। वहीं इसके अलावा हमने महाराष्ट्र पुलिस के आधिकारिक एक्स हैंडल की तलाश की तो, हमें वहां भी ऐसी कोई एडवाइजरी नहीं मिली। यहां तक कि महाराष्ट्र पुलिस की आधिकारिक वेबसाइट पर भी ऐसी कोई जानकारी नहीं दी गई है।

हमारी टीम को इस पड़ताल के दौरान ठाणे पुलिस द्वारा 28 दिसंबर 2020 को जारी की गई एडवाइजरी मिली, जिसमें कोविड वैक्सीनेशन के नाम पर आधार या ओटीपी मांगने वाले ठगों से सावधान रहने की सलाह दी गई थी। हालांकि इसमें वायरल मैसेज जैसी कोई जानकारी नहीं मिली।

राजस्थान पुलिस ने भी खारिज किया दावा

वहीं राजस्थान पुलिस के एक्स हैंडल और फेसबुक हैंडल की पड़ताल में भी हमारी टीम को ऐसा कोई वायरल मैसेज नहीं मिला। ऐसे में अधिक स्पष्टिकरण के लिए जब हमारी टीम ने राजस्थान पुलिस के पीआरओ गोविंद पारिक से इस वायरल मैसेज के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि, “राजस्थान पुलिस ने ऐसी कोई सूचना नहीं जारी की है। हाल-फिलहाल में इस तरह का कोई मामला भी सामने नहीं आया है। फेक पोस्ट करने वाले पर कार्रवाई की जाएगी।”

ऐसे में हमारी पड़ताल से ये साफ हो गया है कि कोरोना वैक्सीन को लेकर वायरल मैसेज का दावा पूरी तरह से फर्जी है। ऐसे में टूडे समाचार की टीम लोगों से ऐसे फेक मैसेज और फर्जी दावों से सतर्क रहने की अपील करती है।

Verify information accuracy with fact-checking: scrutinize claims, cross-reference sources, and confirm data to ensure reliability and combat misinformation.