गोवा में पहला अंतरराष्ट्रीय क्रूज 650 यात्रियों और चालक दल के अन्य सदस्यों के साथ पहुंचा

पणजी, 16 नवंबर (आईएएनएस)। पहला अंतरराष्ट्रीय क्रूज जहाज वाइकिंग मार्स बुधवार को तटीय राज्य गोवा में करीब 650 यात्रियों और चालक दल के अन्य सदस्यों के साथ पहुंचा।
 
गोवा में पहला अंतरराष्ट्रीय क्रूज 650 यात्रियों और चालक दल के अन्य सदस्यों के साथ पहुंचा
गोवा में पहला अंतरराष्ट्रीय क्रूज 650 यात्रियों और चालक दल के अन्य सदस्यों के साथ पहुंचा पणजी, 16 नवंबर (आईएएनएस)। पहला अंतरराष्ट्रीय क्रूज जहाज वाइकिंग मार्स बुधवार को तटीय राज्य गोवा में करीब 650 यात्रियों और चालक दल के अन्य सदस्यों के साथ पहुंचा।

मोरमुगाओ पोर्ट अथॉरिटी के अंतरराष्ट्रीय क्रूज बर्थ पर डॉक किया गया, क्रूज तटीय राज्य में एक दिन के लिए रुकेगा।

मोरमुगाव के भाजपा विधायक संकल्प अमोनकर ने पारंपरिक तरीके से पर्यटकों का स्वागत करने के बाद कहा कि अंतरराष्ट्रीय क्रू ज के आने से राज्य की अर्थव्यवस्था को बढ़ाने में मदद मिलेगी।

उन्होंने कहा, यह पर्यटन क्षेत्र के सभी हितधारकों की मदद करेगा, न केवल मेरे निर्वाचन क्षेत्र से बल्कि उन अन्य लोगों से भी जहां ये पर्यटक आते हैं।

उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के कारण पर्यटन गतिविधियां ठप हो गई थीं, लेकिन अब स्थिति में सुधार हो रहा है। उन्होंने कहा, कोविड के दौरान लोगों को नुकसान हुआ, लेकिन अब ऐसा लगता है कि अच्छा कारोबार होगा क्योंकि पर्यटक आना शुरू हो गए हैं।

अमोनकर ने कहा कि इस तरह के अंतरराष्ट्रीय जलपोतों को गोवा में अधिक समय तक रुकना चाहिए ताकि पर्यटक गोवा का भ्रमण कर सकें। उन्होंने कहा, मैंने अपनी मांग रखी है कि क्रूज लंबी अवधि के लिए यहां रुकें, न कि केवल एक दिन के लिए। पर्यटक गोवा आना पसंद करते हैं और इसलिए उन्हें यहां घूमने के लिए और समय दिया जाना चाहिए।

ट्रैवल एंड टूरिज्म एसोसिएशन ऑफ गोवा (टीटीएजी) के अध्यक्ष नीलेश शाह ने आईएएनएस से कहा कि यह पर्यटन के लिए अच्छा संकेत है कि गोवा में अंतरराष्ट्रीय क्रूज का आगमन शुरू हो गया है। उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि चीजों में सुधार हो रहा है और अधिक पर्यटक गोवा आएंगे।

शाह ने कहा कि इससे होटलों, टैक्सी चालकों, इकोटूरिज्म और अन्य हितधारकों को कारोबार हासिल करने में मदद मिलेगी।

उन्होंने कहा कि क्रूज संचालक गोवा में ठहरने का समय बढ़ाने के बारे में सोच सकते हैं, बशर्ते बंदरगाह शुल्क कम से कम हो और किफायती परिवहन सेवा मुहैया कराई जाए।

उन्होंने कहा, हमें उन्हें बंदरगाह पर और अधिक सुविधाएं देनी होंगी और एक उचित वातावरण बनाना होगा। तभी क्रूज संचालक समय बढ़ाने के बारे में सोच सकते हैं।

--आईएएनएस

एचएमए/एएनएम

From around the web