Breaking News
  • जम्मू-कश्मीरः शोपियां में अगवा 3 पुलिसकर्मियों के शव मिले, आतंकियों ने पुलिसवाले के भाई को छोड़ा
  • एशिया कप 2018: आज भारत का सामना बांग्लादेश से
  • न्यूयॉर्क: भारत-पाकिस्तान के विदेश मंत्री की मुलाकात, अमेरिका ने बताया शानदार

‘साथ जी नहीं सकते तो क्या हुआ साथ मर तो सकते हैं’- भरी जवानी में लगाया मौत को गले...

बदायूं: “साथ जी नहीं सकते तो क्या हुआ साथ मर तो सकते हैं” वैसे तो यह डायलॉग आपने कई हिंदी फिल्मों में सुना होगा, लेकिन अब ऐसी ही एक सच्ची घटना उत्तर प्रदेश के बदायूं से सामने आई है, जिसमें अपने आशिक की मौत की खबर सुनते ही प्रेमिका ने भी मौत को गले लगा लिया।

file

दरअसल, यह पूरा मामला बदायूं जिले के बिल्सी क्षेत्र से है, जहां एक प्रेमी युगल ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस के अनुसार यहां हैबतपुर गांव का रहने वाला 21 साल का संदीप कुमार अपने घर से कल शाम निकला था, लेकिन वह अगले दिन भी अपने घर नहीं लौटा।

ओवैसी ने ऐसा करना बंद नहीं किया तो हिन्दू महासभा मार डालेगी, जैसे गोडसे ने गांधी को...

जिसके बाद उसकी काफी खोजबीन की गई, लेकिन तब भी कही कुछ पता नहीं लग सकता। इस बीच मंगलवार सुबह गांव वालों ने देखा की उसका शव गांव के बाहर पेड़ से लटका है। जिसकी बाद इसकी सूचनी उसके परिजनों को दी गई। इस बीच प्रेमी की मौत की खबर 17 सला की प्रेमिका को भी मिल गई।

वाह रे पति परमेश्वर! पहली पत्नी को जनवरों के सथ सुलाता है और दूसरी के साथ...

प्रेमी की मौत की खबर सुनते ही प्रेमी ने भी अपने आपको फांसी के फंदे से टांग कर प्राण त्याग दिया। मामले में पुलिस ने फिलहाल शवों को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है और इस बात की जांच कर रही है कि आखिर प्रेमी-प्रेमीका ने अपने लिए भरी जवानी में ही मौत क्यों चुना?

पत्नी के लिए दामाद से ससुर को दी दर्दनाक मौत, और खुद ही पहुंचा...

loading...