Breaking News
  • नागरिकों से अपील कि मुठभेड़ वाली जगहों से दूर रहें- सेना
  • दिल्ली में फिर 71 रुपये लीटर हुआ पेट्रोल, डीजल भी महंगा
  • मोदी ने छत्रपति शिवाजी को जयंती पर श्रद्धांजलि दी
  • प्रधानमंत्री का वाराणसी दौरा , कई करोड़ योजनाओं की दिया सौगात

अभी-अभी: शहीद इंस्पेक्टर की पत्नी और बच्चों से मिलने के बाद योगी ने लिए ये बड़े फैसले

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोई इस गलतफहमी में न रहे कि वह बच जाएगा, हमारी तीन-तीन टीमें वहां काम कर रही हैं। सीएम ने यह बात बुलंदशहर हिंसा में शहीद हुए इंस्पेक्टर सुबोध की पत्नी से मुलाकात के दौरन कही हैं। इससे पहले मामले पर सीएम की चुप्पी को लेकर शहीद इंस्पेक्टर के परिजनों ने सरकार पर भी गंभीर आरोप लगाए थे।

आपको बता दें कि बुलंदशहर के एक गांव में पिछले दिनों कथित गोहत्या के मामले को लोकर लोगों की भीड़ हिंसक हो उठी। भीड़ ने पुलिस वालों पर हमला कर दिया, इस दौरान उपद्रवियों में पुलिस चौकी और गड़ियों को आग लगा दी। इस दौरान गोलबारी भी हुई जिसमें एक इंस्पेक्टर और एक अन्य युवक की मौत हो गई।

बुलंदशहर हिंसा: सनसनीखेज वीडियो आया सामने, किसने काटी गाय...

हिंसा में शहीद हुए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के परिजनों ने गुरुवार को राजधानी लखनऊ में मुख्यमंत्री से मुलाकात की है। इस दौरान शहीद की पत्नी रजनी के साथ बेटा और बेटी भी मौजूद रहे। मुलाकात के दौरान सीएम ने शहीद के परिवार को भरोसा दिलाया है कि मामले में सख्त कर्रवाई की जाएगी, कोई बच नहीं सकता है।

बुलंदशहर हिंसा: शहीद इंस्पेक्टर की पत्नी और बहन ने किया हैरान कर देने …

इसके साथ ही सीएम ने शहीद को परिजनों के हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है। राज्य सरकार की ओर से पहले ही शहीद के परिजनों को 50 लाख रुपये की सहायदा राशि का ऐलान किया गया है। इसके अलावा सीएम ने परिवार को असाधारण पेंशन, एक सदस्य को नौकरी के साथ ही जैथरा कुरावली सड़क का नाम शहीद सुबोध के नाम पर रखे जाने की बात की है।

कौन है बुलंदशहर हिंसा का मुख्य आरोपी

इसके साथ ही सुबोध का करीब 30 लाख रुपये का बकाया होम भी चुकाने के लिए सरकार रास्ता तलाश रही है। वहीं सुबोध के बच्चों की पढ़ाई का कर्ज भी यूपी सरकार भरेगी। साथ ही प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने सुबोध के बच्चे की सिविल सर्विस की कोचिंग में भी मदद का भरोसा दिया। इस मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री के साथ डीजीपी और कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी समेत कुछ नेता और अधिकारी भी मौजूद रहे।

loading...