Breaking News
  • नंदा देवी शिखर के पास ITBP को 7 पर्वतारोहियों के शव मिले
  • हार के बाद अखिलेश-मुलायम पर भड़की मायावती
  • BMC ने CM देवेंद्र फडणवीस के बंगले को घोषित किया डिफॉल्टर
  • संसद के दोनों सदनों में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव आज
  • बांग्लादेश में ट्रेन हादसे में 4 की मौत, 150 से ज्यादा घायल

लोकसभा चुनाव खत्म होते रंग में लौटे ही योगी, मंत्री को किया बर्खास्त

लखनऊ: लोकसभा चुनाव के तहत जारी वोटिंग प्रक्रिया के खत्म होने के एक दिन बाद ही उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार अपने सहयोगी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के खिलाफ बड़ा एक्शन लिया। दरअसल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने  एसबीएसपी के अध्यक्ष व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर को पद से बर्खास्त करने की सिफारिश राज्यपाल राम नाईक को भेज दी है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सीएम ने राज्यपाल से आग्रह किया है कि कैबिनेट मंत्री राजभर को जल्द से जल्द बर्खास्त किया जाए।

इसके साथ ही राजभर की पार्टी के अन्य सदस्य जो अलग-अलग निगमों व परिषदों में अध्यक्ष व सदस्य हैं सभी को तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है। सीएम योगी की सिफारिश मानते हुए राज्यपाल ने भी मंजूरी दी है। सरकार के फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए राजभर ने भी स्वागत किया है। साथ ही उन्होंने बताया कि गरीबों के साथ अन्याय हो रहा है।

आपको बता दें कि ओमप्रकाश राजभर भाजपा सरकार में सहयोगी रहते हुए कई मौके पर अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल चुके हैं। उन्होंने कई सार्वजनिक सभाओं में प्रदेश सरकार के साथ-साथ सीएम योगी व पीएम मोदी की जमकर आलोचना कर रहे थे। लोकसभा चुनाव के लिए मन मुताबिक सीटें नहीं मिलने से नाराज राजभर ने सार्वजनिक तौर पर अपनी नाराजगी भी जाहिर की थी। जिसके बाद से ही राजभर के विदाई के संकेत दिखने लगे थे।

राजभर की बर्खास्ती की जानकारी देते हुए सीएम ऑफिस की ओर से किए गए एक ट्वीट में बताया गया, कि योगी आदित्यनाथ ने महामहिम राज्यपाल को पिछड़ा वर्ग कल्याण और दिव्यांग जन कल्याण मंत्री ओमप्रकाश राजभर को मंत्रिमंडल से तत्काल प्रभाव से बर्खास्त करने की सिफारिश की। वहीं सरकारे के इस फैसले को लेकर ने कहा कि मैंने तो पहले ही अपने पद से इस्तीफा दे दिया है, अब उन्हें जो करना है करें।

loading...