Breaking News
  • संसद के मॉनसून सत्र से पहले लोकसभाध्यक्ष ने बुलाई सर्वदलीय बैठक
  • गुजरात में बारिश से अबतक 28 की मौत, यूपी-एमपी में अलर्ट
  • मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी टीडीपी, विपक्षी दलों से मांगा समर्थन
  • भारत-इंग्लैंड के बीच तीसरा और निर्णायक वनडे मैच

मुन्ना बजरंगी की हत्या पर शुरू हुई सियासत: अखिलेश ने खोला मोर्चा...

लखनऊ: बागपत जेल में दिन दहाड़े कड़ी सुरक्षा के बीच माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की गोलीमार कर हत्या की घटना ने राज्य की कानून व्यवस्था पर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है। साथ ही उस सिस्टम की भी कलाई खोल दी है जोकि बाहुबलियों और नेताओं के इशारे पर नाचता है।

बतादें कि सोमवार को बागपत जेल में माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की गोलीमार कर हत्या कर दी जाती है। मुन्ना बजरंगी की हत्या को सुनिश्चित करने के लिए उसे कई गोलियां मारी जारी है। जोकि दो तरह तरह की फोटो में सामने आया है। ऐसे में इस वारदाता ने राज्य की कानून व्यवस्था की कलई खोल दी है। हत्या के कानून व्यवस्था को लेकर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर निशाना साधा है।

दिल्ली: प्राइवेट स्कूल का आतंक, 59 मासूम बच्चियों को तहखाने में बनाया बंधक

उन्होंने कहा कि आज यूपी में न तो कानून बचा है न व्यवस्था, हर तरफ दहशत का माहौल है। अखिलेश यादव ने ट्वीट कर लिया है कि, प्रदेश की जनता बहुत डरी-सहमी है, प्रदेश ने ऐसा कुशासन व अराजकता का दौर पहले कभी नहीं देखा। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है "आज यूपी में न तो कानून बचा है न व्यवस्था। हर तरफ दहशत का वातावरण है।

मुंबई: भारी बारिश में थमी लाइफलाइन, वेस्टर्न हाईवे पर रात से फंसे हैं लोग

अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि व जेल में भी हत्याएं कर रहे हैं। ये सरकार की विफलता है।"  राज्य की जनता से  सुशासन का वादा करके आने वाली सरकार में कानून का क्या हाल हुआ है? मालूम हो कि सोमवार सुबह ही बापट जेल में मुन्ना बजरंगी की कथित तौर पर गोलीमार कर हत्या कर दी गयी थी। वहीँ पूरी हत्या राजनीतिश साजिश मानी जा रही है। मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने खुले तौर कई बीजेपी नेतओं का नाम लेकर हत्या करवाने की साजिश रचने आ आरोप लगाया था।

यह भी देखें-

loading...