Breaking News
  • असम में आज दोपहर 1.55 बजे तक कोरोना के 111 नए मामले, कुल संख्या 1672 हुई
  • 69,000 सहायक शिक्षकों की चल रही भर्ती प्रक्रिया पर लखनऊ हाईकोर्ट बेंच ने लगाई रोक
  • IB कर्मचारी अंकित शर्मा मर्डर केस में तारीन हुसैन का हाथ, दिल्ली पुलिस ने दाखिल की चार्जशीट
  • महाराष्ट्र में कोंकण तट से टकराया निसर्ग चक्रवात, 100 KMPH की रफ्तार से चल रही है हवाएं
  • हर प्रवासी मजदूर को 10 हजार की एकमुश्त मदद दे केंद्र : ममता बनर्जी

लोगों ने घरों में पढ़ा माहे रमजान की अलविदा नमाज, मांगी महामारी से बचाने की दुआ

रिपोर्ट : अंजुमन तिवारी

औरैया : देश में जारी कोरोना कोहराम को लेकर सरकार ने लोगों से घरों में रहकर ही पूजा-पाठ और नमाज अदा करने को कहा था, जिससे वे इस कोरोना जैसे भयंकर महामारी से सुरक्षित रह सकें। सरकार के इस निर्देश के बाद लोगों ने घरों में रहकर ही पूजा और नमाज अदा की। जिसमें कहीं ना कहीं प्रशासन और धर्मगुरूओं का अहम रोल है। क्योंकि सरकार द्वारा बार-बार दिशा निर्देश दिये जाने के बाद भी कुछ लोग अपने हरकतों से बाज नहीं आएं और एक स्थान पर जुटकर नमाज अदा करने लगे। जिसके बाद प्रशासन धर्मगुरूओं से अपील कराने के साथ ही अन्य कई जगहों पर सख्ती भी बरती।

गौरतलब है कि रमज़ान का पाक माह अब खत्म होने को है, जिसे लेकर आज माहे रमजान का अलविदा नमाज घरों में ही पढ़ा गया। जिस दौरान सोशल डिस्टेसिंग के साथ ही लॉकडाउन के नियमों का भी पालन किया गया। अपने आखिरी नमाज के साथ ही लोगों ने पूरी दुनिया को महामारी से बचाने व अमन चैन की दुआ मांगी। बता दें कि रमजान के आखिरी नमाज के साथ ही लोग ईद की तैयारी में लगे है, जो 23 या 24 को मनाया जाएगा।

अगर हम औरैया में कोरोना केस की बात करें तो यहां अब 6 केस एक्टिव है। आपको बता दें कि यहां पहले 8 केस एक्टिव थे, जिसमें से 2 कोरोना पॉजिटिव इलाज के बाद ठीक होकर वापस अपने घरों को जा चुंके है। औरैया जनपद में कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा लगातार गिर रहा है, जो काफी राहतभरा है। बता दें कि इस बात की जानकारी खुद जिलाधिकारी ने दी है।

loading...