Breaking News
  • राम मंदिर मामले में SC कोताही बरत रहा है- CM योगी के मंत्री धर्मपाल का बयान
  • रेवाडी: पुलिस टीम पर बदमाशों का हमला, सब इंस्पेक्टर की मौत
  • सबरीमाला: निलक्कल, पंबा में धारा-144 लगाई गई
  • लखनऊ: पुलिस लाइन में सीएम योगी का औचक निरीक्षण

जेल में गोली मारकर डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या, पत्नी ने पहले ही की थी हत्या की भविष्यवाणी

बागपत:- पूर्वांचल का कुख्यात डॉन प्रेम प्रकाश उर्फ मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में हत्या कर दी गई। आज पूर्व बसपा विधायक लोकेश दीक्षित से रंगदारी मांगने के आरोप में बागपत कोर्ट में मुन्ना बजरंगी की पेशी होनी थी। मुन्ना बजरंगी को रविवार झांसी जेल से बागपत लाया गया था। उसे तन्हाई बैरक में कुख्यात सुनील राठी ओर विक्की सुंहेड़ा के साथ रखा गया था।

जेल में ही गोली मारकर हत्या कर दी गई। जेल में माफिया डॉन की हत्या से अधिकारियों में हड़कंप मच गया है। पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है।

आपको बता दे कि  उत्तर प्रदेश की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) आतंक का पर्याय माने जाने वाले माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी को मुठभेड़ में ढेर करने की फिराक में है। मुन्ना की पत्नी ने एसटीएफ पर यह आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से सुरक्षा की गुहार लगाई थी।

मुन्ना बजरंगी का असली नाम प्रेम प्रकाश सिंह है। उसका जन्म 1967 में उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के पूरेदयाल गांव में हुआ था। उसके पिता पारसनाथ सिंह उसे पढ़ा लिखाकर बड़ा आदमी बनाने का सपना संजोए थे. मगर प्रेम प्रकाश उर्फ मुन्ना बजरंगी ने उनके अरमानों को कुचल दिया। उसने पांचवीं कक्षा के बाद पढ़ाई छोड़ दी। किशोर अवस्था तक आते आते उसे कई ऐसे शौक लग गए जो उसे जुर्म की दुनिया में ले जाने के लिए काफी थे।

loading...