Breaking News
  • संसद के मॉनसून सत्र से पहले लोकसभाध्यक्ष ने बुलाई सर्वदलीय बैठक
  • गुजरात में बारिश से अबतक 28 की मौत, यूपी-एमपी में अलर्ट
  • मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी टीडीपी, विपक्षी दलों से मांगा समर्थन
  • भारत-इंग्लैंड के बीच तीसरा और निर्णायक वनडे मैच

फिर मुश्किल में सपा संरक्षक मुलायम सिंह: कोर्ट ने दिया बड़ा आदेश

लखनऊ: आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर को फोन पर धमकी देने के मामले में समाजवादी पार्टी के संरक्षक और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव की मुश्किल बढ़ने वाली है। इस मामले में अदालत ने मुलायम सिंह को जांच में सहयोग देने का आदेश दिया है। जिसके बाद उनकी आवाज के नमूना लिया जायेगा।

बतादें कि पूरा हाई प्रोफाइल मामला साल 2015 का है। जब राज्य की सत्ता पर बैठे समाजवादी पार्टी के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने एक सीनियर आईपीएस अधिआरी अमिताभ ठाकुर को फोन पर धमकी देते हुए परिणाम भुगतने को कहा था। जिसके बाद आईपीएस अधिकारी ने पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए कोर्ट की शरण में पहुँच गये। कहा जा रहा है कि पूरे मामले में सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं।

पीएम मोदी की विशाल जनसभा, 5500 बसों से पहुंच रहे हैं लाखों लोग

 

इस बावत जांच व क्षेत्राधिकारी बाजारखाला अनिल कुमार यादव ने अदालत को बताया कि मुलायम सिंह आवाज का नमूना देने में सहयोग नहीं कर रहे हैं। जिसके बाद लखनऊ के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (सीजेएम) आनंद प्रकाश सिंह ने मुलायम को जांच में सहयोग देने को कहा है। साथ ही कहा है कि अगर वह जांच में सहयोग और आवाज का नमूना नहीं देते हैं तो इस कथित टैप में रिकॉर्ड आवाज को उनकी ही आवाज मान लिया जाएगा।

आखिर कब सुधरेंगे यह नेता: रेप पर बीजेपी सांसद का विवादित बयान

हालाँकि कोर्ट ने मुलायम सिंह यादव को 20 दिन के अंदर अपनी आवाज का नमूना और जांच में सहयोग करने का आदेश दिया है। आपको जानकारी के लिए बता दें कि लखनऊ के सीनियर आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर को 10 जुलाई 2015 को सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने फोन पर धमकी देकर परिणाम भुगतने को कहा था। जिसके बाद आईपीएस अधिकारी ने कोर्ट के माध्यम से मुलायम सिंह यादव के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था।

यह भी देखें-

loading...