Breaking News
  • कुलभूषण जाधव मामले में आज आएगा फैसला, पाकिस्तानी वकील पहुंचे हेग
  • प्रयागराज : सपा सांसद अतीक अहमद के कई ठिकानों पर छापा
  • सिद्धू के इस्तीफे पर आज फैसला लेंगे पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर
  • कर्नाटक मामले में आज सुप्रीम कोर्ट आज सुनाएगा फैसला

योगी सरकार के हाथ से निकल गई पुलिस, देखिए बेलगाम पुलिस वालों की बेशर्मी!

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में इन दिनों गजब की स्थिती दिख रही है। जिसके हवाले राज्य की जनता की हिफाजत होती है वहीं जनता की जान लेने पर तुला है, और जिस खबर पर अब तक यूपी पुलिस के बड़े से बड़े अधिकारी ना-नू करते दिख रहे थे आज उनकी बोलती बंद हो चुकी है। वहीं उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की सांसे तो हलक में अटकती दिख रही है!

दरअसल, उत्तर की राजधानी की पुलिस ने सरकार के खिलाफ ‘विद्रोह’ छेड़ दिया है। हालांकि इस विद्रोह की सुगबुगाहट पिछले कई दिनों से दिख रही थी, जिसे अधिकारी मानने को तैयार नहीं थे, लेकिन अब जब सिपाहियों का विद्रोह खुल कर सामने आ गया तब उन सभी अधिकारियों के जुबान पर ताला लग गया है।

आपको बता दें कि पिछले दिनों लखनऊ में आधी रात को पुलिस के दो जवानों ने एप्पल कंपनी के एरिया मैनेजर की हत्या गोली मार कर कर दी। हत्या के मामले में दोनों पुलिसकर्मियों को जेल भेज दिया गया है। वहीं अब योगी आदित्यनाथ की पुलिस हत्या के आरोपियों के समर्थन में बेशर्मी से सीमा ताने खड़ी है।

क्या हुआ जब विवेक की पत्नी और बच्चों से मिले सीएम योगी

राजधानी में पुलिस वाले हत्या के आरोपी पुलिसकर्मी के समर्थन में काली पट्टी बांधकर विरोध प्रकट कर रहे हैं और दरिंदे को हीरो बनाने पर तुले हैं? ये वहीं पुलिस वाले हैं जो वर्दी पहनने से पहले निष्ठा के साथ कर्तव्यों का निर्वहन करने की कसम खाते हैं, लेकिन आज एक हत्यारे के लिए कुछ पुलिस वाले सर्विस कोड की धज्जियां ऐसे उड़ा रहे हैं जैसे हत्या के आरोप में जेल में बंद पुलिसकर्मी और उसका कांड ही इनके लिए आदर्श है।

हालांकि ये तो सिपाही है, लज्जा तो उन अधिकारियों को आनी चाहिए जो सर्विस कोड की धज्जियां उड़ते देख कर भी हाथ पर हाथ दिए बैठे हैं। इस पूरे मामले को देखने से ऐसा लगता है जैसे पूरा पुलिस महकमा ही सवालों के घेरे में है। वहीं सवाल उत्तर प्रदेश की सरकार और सीएम योगी आदित्यनाथ के लिए भी है। क्योंकि उन्होंने ही पुलिस को एनकाउंट की छूट दे रखी थी, लेकिन शायद उन्हें नहीं पता था कि ढीले लगाम पाकर पुलिस वाले इतने बेलगाम हो जाएंगे! खैर अब जो बोया वो पाएं, लेकिन अभी तो ये शुरुआत दिखता है पता नहीं आगे क्या-क्या होने वाला है?

लखनऊ शूटआउट: 35 लाख की मदद के बाद विवेक तिवारी की पत्नी को मिला नगर...

मोदी-पुतिन के बीच हो गई ‘बड़ी डील’, मुंह ताकते रह गए अमेरिका समेत अन्य…

loading...