Breaking News
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भुवनेश्वर दौरे पर
  • चक्रवाती तूफान DAYE ने ओडिशा के गोपालपुर तट पर दी दस्तक

‘रेप करने वाले का सिर काट कर लाओ 25 लाख ले जाओ, कोर्ट-कचहरी का खर्ज भी देंगे’

जालौन: देश भर में महिलाओं और बेटियों के साथ आय दिन हो रही रेप और गैंगरेप जैसी घटनाओं पर नकेल कस पाने नें कानून के लंबे हाथ भी बैने पड़ रहे हैं। वहीं महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध पर नियंत्रण लगाने के उद्देशय से कई सामाजिक संस्थाएं भी पहल कर रही है। बता दें कि महिलाओं और खास कर बच्चियों के साथ रेप के मामले में सरकरा ने कानून में थोड़ सख्ती लाई है, लेकिन इसके बाद रेप की घटनाए थमती नहीं दिख रही है।

इस बीच बच्चियों के साथ रेप के मामलों को लेकर राजपूताना करणी सेना ने भी एक बड़ा ऐलान किया है। हालांकि करणी सेना के ये ऐलान साफ तौर पर कानून की धज्जियां उड़ा रही है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कानून को ताक पर रखते हुए उत्तर प्रदेश के जालौन (कालपी) जिले में एक कार्यक्रम के दौरान संगठन के प्रदेश अध्यक्ष वीर प्रताप सिंह ने कहा कि छह साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ रेप करने वाले का सिर काटने वाले को 25 लाख रुपये का ईनाम दिया जाएगा।

‘देशद्रोही’ महिला के लिए अलगाववादियों ने लगाई आग, अब तक एक की मौत कई घायल!

दरअसल, क्षत्रिय सम्मेलन को संबोधित करते हुए सिंह ने कहा कि, महिलाओं और खास कर बच्चियों के साथ रेप की घटनाएं बढ़ती जा रही है, जिसपर लगाम लगाने में पुलिस और सरकारें नाकान है और महिलाओं में असुरक्षा का भय बढ़ता जा रहा है। इसके साथ ही उन्होने ऐलान किया कि, छह साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ दुष्कर्म के आरोपी का सिर काटकर लाने वाले को करणी सेना की ओर से 20 लाख रुपये दिए जाएंगे।

वहीं इस दौरान वीर प्रताप सिंह ने यह भी कहा कि, ऐसा करने वाले को वह पांच लाख रुपये अपनी तरफ से भी देंगे। इस तरह से बच्चियों के साथ रेप करने वाले का सिर काटने वाले के लिए कुल 25 लाख रुपये का ऐलान किया गया है। गौर हो कि बच्चियों के साथ रेप के मामलों की जितनी भी निंदा की जाए कम है, लेकिन साथ ही खुले मंच से इस तरह का ऐलान करना भी कानून को ठेंगा दिखाने जैसा ही है?

UP: उन्नाव वाले वीडियो में हुआ हैरान कर देने वाला खुलासा, हरकत में आई पुलिस

यहां आपको बता दें कि वीर प्रताप सिंह यहीं नहीं रूके बल्कि उन्होंने सिर काटने वालों का समर्थन करते हुए यह भी कहा कि ऐसा करने के बाद कोर्ट-कचहरी का खर्ज भी करणी सेना उठाएगी। साथ ही उन्होने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मसले पर कहा कि सरकार ऐसा नहीं कर पा रही है, लेकिन अब करणी सेना मंदिर का निर्माण भी कराएगी।

इसे भी देखिए!

loading...