Breaking News
  • नये ट्रैफिक नियमों में बढ़े हुए जुर्माने के खिलाफ हड़ताल पर ट्रांसपोर्टर्स
  • यूनाइटेड फ्रंट ऑफ ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने किया है हड़ताल का आहवाहन
  • महाराष्ट्र दौरे पर पीएम मोदी, नासिक से करेंगे चुनाव प्रचार अभियान का आगाज
  • साउथ अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टी20 मैच में 7 विकेट से जीता भारत

लड़को को देख जब लड़की ने चलानी चाही बुलेट तो हुआ कुछ ऐसा

नोएडा : महिला सशक्तिकरण क्या है ? जब हैं नारी में शक्ति सारी, तो फिर नारी को क्यों कहे बेचारी…

महिला सशक्तिकरण का अर्थ उस महिला से हैं जो खुद पर निर्भर रहती हैं और निर्यण भी खुद लेती, इसी महिला को सशक्त करने के लिए पीएम मोदी ने भी कई सारी योजनाएं चलाई हैं, जिससे महिला अपना और अपने परिवार का नाम रोशन कर सके। जिसमें वो कामयाब भी हो रही हैं, वें एक शिक्षक से लेकर पथप्रर्दशक के बीच की भूमिका निभा रही हैं । लोकिन यही पथप्रदर्शक की भूमिका कुछ लोगों को रास नही आ रही । तो ऐसी ही खबर सामने आई हैं जहां एक लड़की ने लड़को के बराबर बुलेट चलानी चाही तो उसका अंजाम कुछ ऐसा हुआ जिसे जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे ।

दरअसल,  ग्रेटर नोएडा के जारचा के एक गांव में जब एक लड़की ने बुलेट मोटरसाइकिल चलाने की कोशिश की तो वहां के लड़को को ये बात गवारा नही हुई, और लड़की के घर पहुंच कर धावा बोल दिया साथ ही गाली-गलौज की और फायरिंग भी की शुरू कर दी । इस घटना से दहशत में जी रहे लड़की के परिवार ने पुलिस में तुरंत शिकायत दर्ज करवा दी, और पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। परिवार को धमकी देने वालों में जारचा थाने के हिस्ट्रीशीटर भी मौजूद हैं। वहा  मौजूद लोगों से पूछताछ के बाद गांव मिलक खटाना के निवासी सुनील मावी ने थाना जारचा में शिकायत दी है, कि 31 अगस्त को लगभग 1:30 बजे उनके गांव के सचिन, कुल्लू और दो अन्य लोग आए और बोले उनकी लड़की अगर बुलेट मोटरसाइकिल चलाएगी, तो वो उसको मार देंगे,  इस पर उन्होंने कहा कि अगर मेरी लड़की से कोई गलती हुई है, तो मैं उसे धमका दूंगा, तो इस पर वे गाली-गलौज करते हुए मारपीट करने लगे और अवैध हथियार से फायरिंग भी करने लग गए।

सुनील ने बताया कि वे डरकर छत की तरफ भागे तो कुल्लू ने छत पर भी आकर फायरिंग की, जब उन्होंने शोर मचाया तो चारों लड़के भाग गए और जाते-जाते उन्होंने धमकी दी, कि अगर पुलिस में रिपोर्ट की तो तुम्हे देख लेंगे, पुलिस ने सुनील मावी की शिकायत पर सचिन, कुल्लू और अज्ञात लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 504, 506, 323, 352 और 452 के तहत एफ़आईआर दर्ज़ कर मामले की जांच शुरू कर दी है, और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापे मारी की जा रही हैं ।

loading...