Breaking News
  • कुलभूषण जाधव मामले में आज आएगा फैसला, पाकिस्तानी वकील पहुंचे हेग
  • प्रयागराज : सपा सांसद अतीक अहमद के कई ठिकानों पर छापा
  • सिद्धू के इस्तीफे पर आज फैसला लेंगे पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर
  • कर्नाटक मामले में आज सुप्रीम कोर्ट आज सुनाएगा फैसला

यूपी में रहते हैं तो ‘अपनी जान की हिफाजत खुद करें’, कोई कभी भी कहीं भी ठोक सकता है...

गाजीपुर: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार चुस्त-दुरुस्त सुरक्षा व्यवस्था की चाहे लाख दावे कर ले। लेकिन इसकी जमीनी हकीकत देखनी हैं तो मेरे साथ चलिए पूर्व केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा के गृह क्षेत्र गाजीपुर। यहां अपराधियों के हौसले इस कदर बुलंद है कि सरकार को अपनी जान की हिफाजत खुद करें वाला बोर्ड लगा देना चाहिए।

ये और बात है कि सीएम योगी अपराधियों को गोला देने की बात करते हैं, सीएम के आदेश पर पुलिस अपराधियों को गोला दे भी रही है, लेकिन साथ ही साथ अपराधियों का कारोबार भी धड़ल्ले से फल-फूल रहा है। ताजा मामला गाजीपुर के कासिमाबाद थाना क्षेत्र के सोनबरसा से हैं, जहां अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं कि वो दिनदहाड़े दुकान में घुसकर दुकानदार को गोली मार रहे हैं।

वो तो संयोग अच्छा रहा कि गोली न तो दुकानदार को लगी और न ही दुकान में मौजूद किसी ग्राहकों को, अन्यथा आज किसी और का घर उजड़ गया होता, किसी मासूम के सिर से उसके पिता का साया हट गया होता, किसी की मांग सुनी हो गई होती। दरअसल, पूरा मामला कुछ यू है कि सोनबरसा निवासी संतलाल की बाजार में सर्राफा की दुकान है।

संतलाल 13 जून को अपनी दुकान पर बैठकर ग्राहकों को आभूषण दिखा रहे थे, तभी एक व्यक्ति दुकान में घुसा और उनके ऊपर असलहे से दो फायर किया। संयोग अच्छा रहा कि संतलाल को गोली नहीं लगी और वो बाल-बाल बच गये।जिस समय फायरिंग की घटना हुई उस समय दुकान में ग्राहक भी मौजूद थे, पर गनीमत रही कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ।

दुकानदार संतलाल ने बताया कि बाइक पर सवार होकर दो लोग आये और उनमें से एक दुकान के अंदर घुसा और उसने मेरे ऊपर दो फायर किया। संतलाल के अनुसार उनमें से एक अभिषेक को वो पहचानता हैं। वहीं एएसपी ग्रामीण सीपी शुक्ला ने बताया कि अभियुक्त अभिषेक के खिलाफ 307 का मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

loading...