Breaking News
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भुवनेश्वर दौरे पर
  • चक्रवाती तूफान DAYE ने ओडिशा के गोपालपुर तट पर दी दस्तक

कांग्रेस नेता ने कहा, तीन मंदिरों को तोड़कर बना था पुल, भगवान् का लगा है श्राप

वाराणसी: वाराणसी में निर्माणाधीन पुल के ढह जाने में 18 लोगों की जा चुकी है। वहीँ कई लोग घायल हैं। ऐसे में पुल हादसे को लेकर कांग्रेस नेता राजबब्बर ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने हादसे पर लापरवाही के साथ साथ भगवान् का भी श्राप बताया है।

बतादें कि वाराणसी में जीटी रोड पर निर्माणाधीन पुल के ढहने से 18 लोगों की जान चली गयी है। वहीँ बुधवार को हादसे में घायल लोगों से मिलने पहुंचे उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर ने हादसे पर दुःख जताते हुए बड़ा बयान दिया है। कांग्रेस नेता राजबब्बर ने पुल हादसे पर बात करते हुए कहा कि, पुल को चुनाव से पहले तैयार करने के लिए तीन विनायक मंदिरों को तोड़ा गया था। इसलिए लोगों का यह मानना है कि हादसा भगवान विनायक के श्राप की वजह से ही हुआ है।

बड़ी खबर: कर्नाटक कांग्रेस के 12 विधायक बीजेपी में शामिल?

उन्होंने कहा कि पुल के लिए मन्दिर को तोड़ा जाना भगवान को रास नहीं आया है। जिसके बाद ही यह हादसा हुआ है। वहीँ इस हादसे को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी पर भी हमला किया गया है। उन्होंने कहा कि यहाँ से सांसद देश के पीएम हैं। उन्हें इस दुःख की घड़ी में यहाँ आना चाहिए थे और लोगों का दुःख समझना चाहिए था।

BJP राज में इकलौते सीपीएम विधायक पर दर्ज हुआ केस, कहा छोड़ दूंगा सदस्यता

राज बब्बर ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी यहाँ नहीं आये लेकिन वह कर्नाटक में अपनी सरकार बनवाने में जरुर बिजी है। इसके साथ ही कांग्रेस नेता ने घटना में मृतकों को 50-50 लाख रूपये की आर्थिक मदद देने की मांग की है। साथ ही घायलों के समुचित इलाज के लिए सरकार से मदद के लिए कहा है। ज्ञात हो कि मंगलवार शाम को वाराणसी के कैंट रेलवे स्टेशन के पास निर्माणाधीन पुल का एक हिस्सा गिर गया था। जिसकी चपेट में आकर 18 लोगों की जान चली गयी। वहीँ कई घायल हो गये थे।     

यह भी देखें-

loading...