Breaking News
  • जो राम का नहीं, वो किसी काम का नहीं-धमतरी में CM योगी
  • दौसा के बीजेपी सांसद हरीश मीणा कांग्रेस ज्वॉइन करेंगे
  • गहलोत बोले, मैं और सचिन पायलट मिलकर लड़ेंगे चुनाव
  • SC ने प्रशांत भूषण से कहा, कोर्ट में उतना ही बोलें जितना ज़रूरी हो

मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद हुए हैरान कर देने वाले खुलासे, सामने आया हत्यारा!

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के बागपत जेल में पिछले दिनों गैंगेस्टर मुन्ना बजरंगी की बेरहमी से हत्या किए जाने के मामले में जेल प्रशासन समेत प्रदेश की योगी सरकार भी सवालों के घेर में है। इस बीच मामले की जांच के क्रम में एक के बाद एक हैरान करने वाले खुलासे हो रहे हैं। बताया जाता है कि मुन्ना की हत्या उसी जेल में बंद सुनील राठी ने की है, जिसने अपना अपराध कबूर कल लिया है।

लेकिन हत्या करने वाले राठी का कहना है कि उसने अपनी जान बचाने के लिए मुन्ना को मारा है। राठी के अनुसार, मुन्ना उसके उपर पिस्टल तान रखा था। इस बीच उसने उसी से पिस्टल छिना और उसकी हत्या कर दी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के हवाले से बताया जाता है कि मुन्ना सुनील राठी ने मुन्ना पर 10 गोलियां चलाई, जिनमें से 9 गोलियां लगीं जबकि एक मीस हो गया।

चुनावी रैली में आत्मघाती हमला, दिग्गज नेता और उम्मीदवार समेत 14 की मौत

बताया जाता है मुन्ना को 9 गोलियां उसके सिर और सीने पर सटा कर मारी गई और हत्या करने के बाद राठी ने पिस्टल को नाले में फेंक दिया। हालांकि पुलिस ने घटनास्थल से 10 खोखे बरामद किए हैं। आपको बता दें कि जेल में हत्या की खबर ने पूरे प्रदेश में हड़कंप मचा रखा है। इस बीच एडीजी जेल चंद्रप्रकाश भी बागपत जेल पहुंचकर हालात का जायजा लिया।

खबरों के अनुसार चंद्रप्रकाश यहां करीब पांच घंटे तक जांच पड़ताल किया और उन्होंने तन्हाई बैरक का मुआयना करने के साथ ही वारदात वाली जगह को देखा। एडीजी जेल ने जेल में सुरक्षा इंतेजाम को लेकर नाराजगी जाहीर करने के साथ ही जेल अधिकारियों को लताड़ लगते हुए पूछा, आखिर जेल कैदी के पास हथियार कहा से आए?

BJP ने कांग्रेस के साथ ABP न्यूज पर भी बोला सीधा हमला, जारी है बवाल

आपको बता दें कि राठी के बयान के बाद यह तो साफ हो गया है कि हत्या उसी ने की है, लेकिन अब तक यह साफ नहीं हो सका है कि हत्या के पीछे किसका हाथ है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, मामले में न केवल विभागीय जांच होगी बल्कि न्यायिक जांच और मजेस्ट्रेटियल जांच भी होगी। वहीं जेल में हत्या के मामले में CBI जांच को लेकर कोर्ट में सुनवाई भी हो रही है।

तो इस तरीके से JK में फिर से सरकार बना सकती है बीजेपी?

loading...