Breaking News
  • कोरोना के खिलाफ लड़ने में डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ ही असली सैनिक : पीएम मोदी
  • बिहार : 8 जून से खुलेंगे 4500 धार्मिक स्थल, महावीर मंदिर के लिए होगी ऑनलाइन बुकिंग
  • गाजियाबाद में कोरोना के 32 नए मामले आए, संक्रमितों की संख्या 305 हुई
  • मुंबईः बॉलीवुड के संगीतकार वाजिद खान का निधन, कोरोना की भी रिपोर्ट आई सामने
  • शेयर बाजार में उछाल, सेंसेक्स 482 अंकों की तेजी के साथ खुला

फेक खबरों से बचने का आसान उपाय!

नई दिल्ली: हाल के दिनों फेक खबरें सिर्फ भारत के लिए ही नहीं बल्कि दुनिया भर के लिए परेशानी का सबब दिख रही है, जिससे निपटना सराकर और संबंधित कंपनियों के लिए किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं है। वहीं चुनावी मौसम में फेक खबरों का प्रचार-प्रसार और भी बढ़ जाता है, जिसका बुरा असर चुनाव पर भी पड़ता है।

यही कारण है कि चुनाव आयोग ने भी फेक खबरों को लेकर कड़ा रुपख अपना है। जानकारी के अनुसार आयोग के निर्देश पर पुलिस की टीमें सोशल मीडिया पर 24 घंटे निगरानी रख रही है। वहीं संबंधित कंपनियां भी फेक खबरों पर नकेल कसने के इरादे से लोगों के बीच जागरुकता फैलाने के साथ-साथ कई अन्य उपाय भी कर रही है।

हालांकि इससे पहले भी फेक खबरों के खिलाफ कड़े कदम उठाये जाने के कई दावे किए गए, लेकिन फेक खबरों का बाजार धड़ल्ले फल-फूल रहा है। इस बीच इस्टेंट मैसेजिंग ऐप Whatsapp ने फेक खबरों पर नकेल कसने के इरादे से एक ऐसा नम्बर जारी किया है, जिसपर आप मैसेज के माध्यम से यह जान पाएंगे कि खबर सहीं है या गलत।

इसके लिए आपको Whatsapp  द्वारा जारी किए गए नंबर 9643000888 पर उस संदेश को भेजना होगा, जिसकी सत्यता का पता लगाना चाहते हैं। बता दें कि Whatsapp ने यह नम्बर भारत में लोकसभा चुनाव के लिहाज से जारी किया है, ताकि फेक खबरों पर रोक लगाया जा सकें। WhatsApp ने अपने सर्विस का नाम फैक्ट चेकिंग सर्विस रखा है। जो खबरों को जांच कर, उस पर False, Misleading या Disputed का लेबल देगी। जो खबरें सही होगी, उस पर True का लेबल दिया जाएगा।

इसके साथ ही बता दें कि Whatsapp ने बिना सहमति के ग्रुप में एंट्री करने पर भी रोक लगा दी है। जिससे आपको किसी भी ग्रुप से जुड़ने के लिए ग्रुप बनाने वाले का परमिशन लेना होगा। आपको बता दें कि इससे पहले फेसबुक ने भी अपने पेज पर चलने वाले अनेक ऐसे पेजों को बंद किया है, जिस पर आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया जाता था। 

loading...