Breaking News
  • चार धाम यात्रा: छह महिने के बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, कल खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट
  • वो (ममता) अब मेरे लिए पत्थरों और थप्पड़ों की बात करती हैं: मोदी
  • पश्चिम बंगाल के बांकुरा में पीएम मोदी की चुनावी रैली, ममता पर बोला हमला
  • लोकसभा चुनाव में 200 सीटों के अंदर सिमट जाएगी एनडीए: चंद्रबाबू नायडू
  • पश्चिम बंगाल में वोटिंग के दौरान हिंसा, दमदम में रो पड़े मतदान अधिकारी
  • गोडसे विवाद पर नीतीश, साध्वी प्रज्ञा का बयान बर्दाश्त से बाहर, पार्टी से निकाला जाए
  • लोकसभा चुनाव: सातवें व अंतिन चरण में 8 राज्यों की 59 सीटों पर वोटिंग

बड़ी खबर: अब प्रीपेड मोबाइल की तरह काम करेगा आपके घर का बिजली मिटर

नई दिल्ली: मौजूदा दौरा विकास और बदलाव का दौर है, जिसमें टेक्नोलॉजी की मदद से हर क्षेत्र में विकास के नए आयम तक पहुंचने की प्रक्रिया जारी है। टेक्नोलॉजी के मामले में दुनिया के अन्य देशों के साथ भारत भी कदम से कदम मिला कर आगे बढ़ रहा है। टेक्नोलॉजी की मदद सरकार लेकर जनता तक सभी अपने काम को आसान बनाने में लगे हैं। इस क्र में आने वाले दिनों में ऐसा भी हो सकता है कि आपका बिजली मिटर भी मोबाइल की प्रीपेड सेवा की तरह काम करेगा।

दरअसल स्वतंत्र प्रभार केंद्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री आरके सिंह ने कहा कि अगले तीन साल में देश के सभी बिजली मीटर स्मार्ट प्रीपेड मीटर से बदल जाएंगे। इस सुविधा के बाद घर पर बिजली बिल पहुंचने की जरूरत नही होगी, जिस तरह से बिना पैसे के आप अपने मोबाइल फोन से बात नहीं कर सकते ठीक उसी तरह से बिना पैसे के आपके घर की बिजली भी नहीं जल सकती।

सिर्फ प्रणब मुखर्जी ही नहीं, RSS के कार्यक्रम में ये दिग्गज भी हुए हैं शामिल

मंत्री ने मीटर निर्माताओं के एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि स्मार्ट प्रीपेड मीटरों का निर्माण बढ़ाया जाना और इनकी कीमतें घटाना समय की मांग है। मंत्री ने कहा कि स्मार्ट प्री-पेड के कई फायदे हैं, जैसे की उपभोक्ताओं के घर बिल भेजे जाने की परेशानी खत्म होगी, बिजली कंपनियों पर बकाया का भार भी नहीं होगा।

RSS मुख्यालय से बाहर निकले ही पणब मुखर्जी का अपमान, गुस्से से लाल हुईं बेटी शर्मिष्ठा!

उन्होंने कहा कि स्मार्ट मीटर के इन फायदों को ध्यान में रखते हुए निर्माण को अनिवार्य करने पर विचार किया जाना चाहिए, ऐसा करने से बिजली क्षेत्र में क्रांति आएगी और नुकसान कम होंगे जिससे बिजली वितरण कंपनियों की हालत में सुधर होगी। मंत्री ने कहा कि स्मार्ट मिटर से ऊर्जा संरक्षण को बढ़ावा मिलेने के साथ-साथ बिल भुगतान करना भी आसान होगा साथ ही इससे कुशल युवाओं के लिए रोजगार के अवसर भी मिलेंगे।

इतनी ही नहीं उर्जा मंत्री ने राज्यों के बिजली मंत्रियों से बातचीत के बाद कहा कि अगर राज्य की ओर से मदद की जाती है तो 2021 तक पूरे देश में 24X7 बिजली मिल सकेगी। हर घर में केवल मीटर के जरिए बिजली की सप्लाई होगी। इस सुविधा के अमल में आने के बाद बिना प्रीपेड मीटर के बिजली इस्तेमाल पर जुर्माना भी लगाया जाएगा। बता दें कि इस सुविधा के तहत उपभोक्ता अपने मोबाइल फोन के माध्यम से ही बिजली मीटर को रिचार्ज कर सकेंगे।

‘पणब मुखर्जी ने RSS को उसके ही मुख्यालय में दिखा दिया आईना’

loading...