Breaking News
  • अरुण जेटली ने अमेरिका के वित्त मंत्री के समक्ष उठाया H-1B वीजा मुद्दा
  • पासपोर्ट के लिए अब हिंदी में दे सकेंगे ऑनलाइन एप्लिकेशन, सरकार का फैसला
  • नीति आयोग की बैठक में बोले मोदी- GST देश के लिए ऐतिहासिक कदम
  • जम्मू-कश्मीरः फेसबुक पेज पर फर्जी खबरें पोस्ट करने के आरोप में पेज एडमिन गिरफ्तार
  • ब्रिटेन में 38 भारतीयों को वीजा नियमों का उल्लंघन करने के कारण हिरासत में लिया गया
  • MCDelections2017 में करीब 54 प्रतिशत मतदान- चुनाव आयोग

चाइनीज फोनों से सावधान, आपका मोबाइल कर रहा है आपकी जासूसी...


NEW DELHI:- देश में चाइनीज उत्पादों का जमकर विरोध किया जा रहा है, और एक्सपर्ट बताते है कि इस विरोध से चीन को काफी नुकसान हो रहा है। तो वही एक ऐसी भी खबर आई जिसे सुनकर आप अब चाइनीज फोनों से भी दूरी बना लेंगे, दरअसल, मोबाइल बनाने वाली चीन की कंपनी ने स्वीकार किया है कि उसने अपने उत्पादों में ऐसे जासूसी उपकरण लगाए हैं जो इस्तेमाल कर्ताओं की बातचीत और मैसेज को उसके पास भेज देते हैं।

शंघाई एड्यूप्स टेक्नोलॉजी ने कहा है कि उसने प्राप्त हुई बातचीत और टेक्स्ट मैसेज किसी अन्य से साझा नहीं किए हैं। इसके लिए सुरक्षा और गोपनीयता का पूरा ध्यान रखा गया है। उल्लेखनीय है कि कई प्रमुख मोबाइल फोन ब्रांड चीन में अपना माल तैयार कराते हैं। अमेरिकी कंपनी क्रिप्टोवायर ने बताया था कि जासूसी करने का यह उपकरण एंड्रोयड फोन बनाने वाली कंपनी की ओर से ही लगाया गया है। वह फोन इस्तेमाल करने वाले से जुड़ी सूचनाओं को शंघाई में लगे कंप्यूटर को भेज रहा था। चीन के बने मोबाइल फोन में इस तरह के उपकरण लगे होने का रहस्योद्घाटन हाल ही में अमेरिका की साइबर सिक्यूरिटी फर्म क्रिप्टोवायर ने किया है।

मोबाइल में लगा उपकरण नई प्रोग्रामिंग से लेकर उसे अपडेट किए जाने तक की सूचनाएं शंघाई में लगे कंप्यूटर को भेज रहा था।

यह किसी भी एंटी वायरस को धोखा देने में सक्षम है जिससे इसे न तो पकड़ा जा सके और न ही निष्क्रिय किया जा सके। ये बातें सामने आने के बाद चीनी कंपनी की मंशा पर सवाल उठने लगे हैं। क्रिप्टोवायर ने अमेरिका में खासे चलन वाले मोबाइल फोन आर वन एचडी ब्रांड में लगे उपकरण को सार्वजनिक भी किया है। इस ब्रांड के फोन भारत में भी बेचे गए हैं। ये ऑनलाइन कंपनियों द्वारा बेचे गए हैं। यह सूचना आने के बाद अमेजन ने अमेरिका में इन फोनों की बिक्री रोक दी है।

loading...