Breaking News
  • सोनभद्र जाने पर अड़ी प्रियंका गांधी, धरने का दूसरा दिन
  • असम और बिहार में बाढ़ से 150 लोगों की गई जान, 1 करोड़ से अधिक लोग प्रभावित
  • इलाहाबाद हाइकोर्ट ने पीएम मोदी को जारी किया नोटिस, 21 अगस्त को सुनवाई
  • कर्नाटक पर फैसले के लिए अब सोमवार का इंतजार

विश्व कप के पहले मुकाबले से पहले साउथ अफ्रीका को बड़ा झटका, एक दिग्गज बाहर

लंदन: क्रिकेट का कुंभ यानी आईसीसी विश्व कप-2019 का पहला मैच गुरुवार को मेजबान इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के बीच द ओवल मैदान पर खेला जाएगा। क्रिकेट के जनक इंग्लैंड की टीम और दक्षिण अफ्रीकी टीम दोनों विश्व की सबसे शानदार व दमदार टीमों में सुमार रही है, लेकिन दुर्भाग्य से ये दोनों टीमें एक भी बार विश्व कप नहीं जीत सकी हैं। दोनों टीमों के बीच पहला मुकाबले भारतीय समयानुसार 3 बजे से खेला जा रहा है। खबर लिखे जाने तक इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए एक विकेट के नुकसान पर 58 रन बना लिए हैं।

विश्व कप 2019 में इंग्लैंड और अफ्रीका की टीम उन टीमों में सुमार है जो विश्व कप के प्रबल दावेदारों में सुमार है। इस लिस्ट में भारतीय टीम का भी नाम शामिल है। खात तौर पर अगर इंग्लैंड की बात करे तो हाल के दिनों में इस टीम की ऐसी पहचान रही है, जिसके लिए कोई भी लक्ष्य हासिल करना मुमकिन है।

बीते दो साल में इस टीम ने जितने हाई स्कोरिंग मैच खेले हैं, उतने शायद किसी और टीम ने नहीं खेले होंगे। टीम की गेंदबाजी भी दमदार है। इंग्लैंड की बल्लेबाजी में गहराई है। टीम के पास जॉनी बेयरस्टो, जेसन रॉय जैसे सलामी बल्लेबाज हैं। इन दोनों के अलावा मौजूदा समय के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में गिने जाने वाले जोए रूट टीम को स्थिरता देते हैं।

वहीं कप्तान मोर्गन, फॉर्म में चल रहे जोस बटलर और हरफनमौला खिलाड़ी बेन स्टोक्स तथा मोइन अली मध्य और निचले क्रम में तेजी से रन बनाने के लिए विख्यात हैं। जबकि इंग्लैंड की गेंदबाजी उतनी मजबूत नहीं है जितनी उसकी बल्लेबाजी है लेकिन जोफ्रा आर्चर के आने से टीम को नई ताकत मिली है। इसके अलावा टीम में लियाम प्लंकट, मार्क वुड, क्रिस वोक्स, टॉम कुरैन पर तेज गेंदबाजी की जिम्मा होगा।

वहीं अगर दक्षिण अफ्रीका की बात करें तो उसके लिए टूर्नामेंट से पहले बुरी खबर आई है। टीम के अनुभवी तेज गेंदबाज डेल स्टेन कंधे में चोट के कारण पहले मैच से बाहर हो गए हैं। स्टेन के अलावा टीम के पास कागिसो रबादा और लुंगी नगिदी जैसे गेंदबाज हैं जिन्होंने अभ्यास मैच में अच्छा प्रदर्शन किया है। खिताब के पास जाकर भी हार जाने के कारण चोकर्स के नाम से मशहूर इस टीम के पास बेहतरीन गेंदबाजी आक्रमण है, लेकिन बल्लेबाजी में गहराई नहीं है।

टीम के कप्तान फाफ डु प्लेसिस के अलावा युवा क्विंटन डी कॉक टीम के मुख्य बल्लेबाज हैं। हाशिम अमला खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं। टीम के पास एडिन मार्कराम, डेविड मिलर, ज्यां पॉल ड्यूमिनी, आंदिले फेहुलक्वायो, रैसी वान डेर डुसैन हैं लेकिन निरंतरता की कमी इन सभी के साथ चलती आई है।

दोनों टीमें इस प्रकार है

इंग्लैंड की टीम: इयोन मोर्गन (कप्तान), मोइन अली, जोफ्रा आर्चर, जॉनी बेयरस्टो (विकेटकीपर), जोस बटलर, टॉम कुरैन, लियाम डॉसन, लियाम प्लंकट, आदिल राशिद, जोए रूट, जेसन रॉय, बेन स्टोक्स, जेम्स विंसे, क्रिस वोक्स, मार्क वुड।

अफ्रीकी टीम: फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), डेविड मिलर, एडिन मार्कराम, हाशिम अमला, रासी वैन डेर डुसैन, क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), कागिसो रबाडा, लुंगी नगिदी, इमरान ताहिर, डेल स्टेन, तबरेज शम्सी, ज्यां पॉल ड्यूमिनी, आंदिले फेहुलक्वायो, ड्वयान प्रीटोरियस, क्रिस मौरिस।

loading...