Breaking News
  • अयोध्या मामले में 2 अगस्त से खुली कोर्ट में सुनवाई, 31 जुलाई तक मध्यस्थता की प्रक्रिया
  • महाराष्ट्र में गोरखपुर अंत्योदय एक्सप्रेस पटरी से उतरी
  • अमरनाथ यात्रा पर आतंकी कर सकते हैं आतंकी हमला : सूत्र
  • कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार का शक्ति परीक्षण, 2 बसों में विधानसभा पहुंचे BJP विधायक

क्या बादलों को मोड़ सकेंगे गेंदबाज, जीत दिलाई थी...

नई दिल्ली : ICC वर्ल्ड कप 2019 के 11वें मुकाबले में शुक्रवार को पाकिस्तान का सामना श्रीलंका से होगा। वेस्टइंडीज  से बुरी तरह हारने के बाद पाकिस्तान ने जबरदस्त वापसी करते हुए विश्व कप की प्रबल दावेदार और मेजबान इंग्लैंड को हराकर विरोधियो को सोचने पर मजबूर कर दिया है। श्रीलंका के सामने जीत की विशाल चुनौती होगी। श्रीलंका ने अब तक दो मैचों में से एक में जीत तथा एक में हार का सामना किया है। श्रीलंका अपने पहले मैच में न्यूज़ीलैंड के हाथों मिली एकतरफा हार के बाद अफगानिस्तान से भी मामूली जीत दर्ज़ कर पायी थी। जिससे श्रीलंका टीम के ऊपर पूरा दबाव होगा, जबकि पाकिस्तान के हौसले हाई स्कोरिंग मैच में इंग्लैंड को हराने के बाद बुलंद है।

श्रीलंका की परेशानी का कारण उसकी बल्लेबाज़ी का निरंतर फेल होना है। श्रीलंका को अगर इस मैच में जीत दर्ज़ करना है तो उसे अपनी बल्लेबाज़ी से कुछ विशेष करना होगा। ब्रिस्टल की पिच हमेशा से ही गेंदबाज़ो की मददगार रही है, पाकिस्तान के पास विश्व कप बेहतरीन बॉलिंग अटैक है। वहाब रियाज़ और मोहम्मद आमिर के टीम में वापसी के बाद पाकिस्तानी पेस अटैक और भी मजबूत हो गया है, वहाब और आमिर ने इंग्लैंड के खिलाफ हुए मैच में शानदार गेंदबाज़ी करते हुए अपनी टीम  ही जीत दिलाई । 

पाकिस्तान के पिछले मैच के प्रदर्शन के बाद उसको इस मैच में जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा है, जैसा की पिच गेंदबाज़ी के अनुकूल है तो पाकिस्तान के पास पेसर्स और स्पिनर्स का अच्छा मिश्रण है। इंग्लैंड के खिलाफ हुए मैच में प्रोफेसर के नाम से मशहूर मोहम्मद हफ़ीज़, बाबर आज़म और कप्तान सरफ़राज़ ने शानदार अर्धशतकीय परिया खेली। अगर अनुभव की बात करें तो अनुभव के मामले में भी श्रीलंका की टीम पाकिस्तान के सामने बौनी दिखती नज़र आ रही है। श्रीलंका की ओर से एंजेलो मैथ्यूज़ और मलिंगा को छोड़कर किसी भी खिलाड़ी के पास उतना अनुभव नहीं है। श्रीलंका की तरफ से कुशल परेरा से इस मैच में एक बड़ी पारी की उम्मीद रहेगी, जैसा की उन्होंने अफगानिस्तान के खिलाफ 78 रनो की अहम पारी खेली थी।

श्रीलंका अफगानिस्तान को हराकर एक सकारात्मक मानसिकता के साथ इस मैच में खेलेगी परन्तु अपने जीत के सफर को जारी रखने के लिए पाकिस्तान के खिलाफ उसे दूसरा ही खेल दिखाना होगा। एंजेलो मैथ्यूज़ और मलिंगा के अनुभव के साथ कुशल परेरा और नुवान प्रदीप का युवा जोश श्रीलंका को इस मैच में जीत की ओर ले जा सकता है। अगर  हम रिकॉर्ड्स की बात करे तो दोनों ही टीमें विश्व कप में सात  बार आमने सामने रह  चुकी है जिसमे सातों बार पाकिस्तान ने बाज़ी मारी है। यहां  रिकॉर्ड्स भी पाकिस्तान का साथ देते दिखाई दे रहे है, श्रीलंका को अगर इन रिकार्ड्स के पार जाना है तो आज यहाँ पर अविश्वसनीय खेल का उदहारण पेश करना होगा।  

पिच और मौसम की बात करें तो ब्रिस्टल की पिच हमेशा से ही गेंदबाज़ो की पिच रही है। यहां पर पाकिस्तान और श्रीलंका की साइड से मलिंगा बल्लेबाज़ों को परेशान कर सकते है। ब्रिस्टल में आज बदल छाए रहने के आसार ज्यादा है। ब्रिटेन मौसम विभाग की रिपोर्ट के अनुसार बारिश मैच में खलल डाल सकती है। अब देखना ये है की पूर्व विश्व विजेताओं की इस लड़ाई में कौन बाज़ी मारता है।

टीमें (संभावित) :

पाकिस्तान :

इमाम उल हक, फखर जमान, बाबर आजम, शोएब मलिक, मोहम्मद हफीज, सरफराज अहमद (कप्तान और विकेट कीपर), इमाद वसीम, शादाब खान, हसन अली, वहाब रियाज और मोहम्मद आमिर।

श्रीलंका:

दिमुथ करुणारत्ने(कप्तान ), लहिरु थिरिमाने, कुसल परेरा (विकेट कीपर), कुसल मेंडिस, एंजेलो मैथ्यूज, धनंजय डिसिल्वा, थिसारा परेरा, जीवन मेंडिस, नुवान प्रदीप, सुरंगा लकमल और लसिथ मलिंगा।

loading...