Breaking News
  • व्यापार विवाद- जब तक चीन रास्ता नहीं बदलता अमेरिका पीछे नहीं हटेगा: माइक पेंस
  • इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने शनिवार को मालदीव के सातवें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली, मोदी भी हुए शामिल
  • ICCWT20 के ग्रुप-बी मुकाबले में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 48 रन से हराया
  • राफेल डील पर मुझसे 15 मिनट बहस करें पीएम मोदी: राहुल गांधी

राहुल के जन्मदिन पर सहवाग ने दिया ‘धाकड़ तोहफा’- देखने के लिए यहां क्लिक करें...

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और ‘संकट मोचन’ बल्लेबाज रहे राहुल द्रविड़ आज 45 साल के हो गए हैं। राहुल का जन्म 11 जनवरी 1973 को इंदौर में हुआ था। राहुल के जन्मदिन पर टीम इंडिया के विस्फोटक बल्लेबाज और साथी खिलाड़ी रहे वीरेंद्र सहवाग ने अनूठे अंदाज में द्रविड़ को शुभकामनाएं दी हैं।

सहवाग ने अपने संदेश के साथ दो तस्वीरें साझा किया है, जिसमें से पहली तस्वीर चीन की दीवार की है, जिसकी तुलना द्रविड़ से करते हुए उन्होंने लिखा है कि 'इसे तोड़ा और हिलाया भी जा सकता है', जबकि दूसरी तस्वीर में वह बाईक पर राहुल के पीछे बैठे हैं।

इस तस्वीर के साथ सहवाग ने लिखा है कि, 'इस दीवार की सवारी अटूट है, इसके पीछे बैठ जाओ, आराम करो और सुरक्षित सवारी करो, इसके आगे सहवाग ने लिखा, #HappyBirthdayDravid, अंडर-19 के खिलाड़ियों के लिए शुभकामनाएं'।

मरे नहीं मारे गए थे भारत के दूसरे प्रधानमंत्री शास्त्री जी- किसने दिया था दूध में जहर...

राहुल एक बेहतीन खिलाड़ी के साथ-साथ बेहतरीन प्रशिक्षक भी हैं। जिसका नतीजा है कि जन्मदिन से पहले उनके बेटे समित ने स्कूली क्रिकेट में 150 रन बनाकर अपने पिता को शानदार तोहफा दिया है। आपको बता दें कि राहुल द्रविड़ फिलहाल न्यूजीलैंड में हैं, जहां 13 जनवरी से शुरू हो रहे अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम को चैंपियन बनाने के लिए पसीना बहा रहे हैं।

टीम इंडिया में लौट आई विस्फोटक तान्या भाटिया

अपने जन्मदिन पर राहुल ने एक वीडियो संदेश देते हुए द्रविड़ ने देशवासियों से अपील करते हुए कहा कि भारतीय टीम को सपोर्ट करें। द्रविड़ के जन्मदिन पर साथी खिलाड़ियों के साथ-साथ अन्य लोगों नें भी शुभकामनाए दी है। कर्नाटक के राहुल द्रविड़ जब टीम इंडिया के साथ थे तब उन्हें सबसे भरोसेमंद खिलाड़ियों में गिना जाता है, जिसके लिए उन्हें ‘संकट मोचन’ भी कहा जाता था। तो वहीं अपनी इसी खूबी के कारण द्रविड़ को 'वॉल' और 'मिस्‍टर रिलायबल' का नाम भी मिला। द्रविड़ ऐसे बल्लेबाजों के क्रम में आते हैं जो मैदान पर बिना किसी दवाब के लंबी पारियां खेलते थे।

loading...