Breaking News
  • राजस्थान सरकार ने लागू किया सातवां वेतन आयोग
  • बोफोर्स: माइकल हर्शमेन के ख़ुलासों के बाद कांग्रेस की बढ़ी मुश्किलें, भाजपा ने मांगा जवाब
  • प्रधानमंत्री मोदी समेत अन्य लोगों ने दी देशवासियों को दीपावली की शुभकामनाएं
  • दीपावली के पावन पर्व पर आप सबको हार्दिक शुभकामनाएं

इंटरनेशनल हॉकी खिलाड़ी की मौत ने लिया नया मोड़- ट्रेन ड्राइवर ने बताई सच्चाई

नई दिल्ली: अंतरराष्ट्रीय स्तर की हॉकी खिलाड़ी ज्योति गुप्ता की संदिग्ध मैत के मामले ने पहले ही सब को चौंका दिया था, जिसके बाद अब मौत के कारणा का खुलासा जान एक बार फिर से चौंक सकते हैं। दरअसल ज्योति गुप्ता की मौत आत्महत्या ही थी, इसका खुलासा ट्रेन के ड्राइवर के बयान के आधार पर किया जा रहा है। पिछले दिनों ज्योति गुप्ता का शव रोहतक रेलवे लाइन पर पड़ा मिला, जिसके बाद से पूरे इलाके मे सनसनी का माहौल है। परिजनों के अनुसार ज्योति बुधवार सुबह रोहतक स्थित महर्षि दयानंद विवि के लिए घर से निकली थी। मौत की जानकारी मिलने के बाद परिजनों को साफ कहना था कि उनकी बेटी आत्म हत्या नहीं कर सकती है।

लेकिन ट्रेन के ड्राइवर के बयान के हवाले से बताया जा रहा है कि एक लड़की ओवरब्रिज के नीचे दूर से खड़ी दिखाई दे रही थी। जिसके बाद ट्रेन का हॉर्न भी बजाया गया। ड्राइवर के अनुसरा हॉर्न सुनकर एक बार तो वह पीछे हटी लेकिन इसके बाद में उसने अपनी गर्दन ट्रेन के नीचे दे दी। पुलिस भी ड्राइवर के बयान पर आत्महत्या का मामला दर्ज कर मामले की जांच में जुट गई है।

हरियाणा के सोनीपत की रहने वाली ज्योति गुप्ता का शव रोहतक रेलवे लाइन पर पड़ा मिला, जिसके बाद से पूरे इलाके मे सनसनी का माहौल है। परिजनों के अनुसार ज्योति बुधवार सुबह रोहतक स्थित महर्षि दयानंद विवि के लिए घर से निकली थी।

मामले के खुलासे के बाद ज्योति के परिजन इस घटना को आत्महत्या मानने से साफ इनकार कर दिया है, लेकिन फिलहाल मौत के कारणों का खुलासा नहीं किया गया है। ज्योति के पिता प्रमोद गुप्ता ने बताया कि ज्योति बीए कर चुकी थी और वह बुधवार सुबह अपने सर्टिफिकेट में दर्ज नाम में गलती को ठीक कराने के लिए एमडीयू रोहतक जाने की बात कह कर घर से निकली थी।

परिजनों के अनुसार ज्योति सुबह करीब 11 बजे घर से मिकली थी, लेकिन वह शाम के पांच बजे तक घर नहीं लौटी, जिसके बाद उसने मां से बात भी की, इस दौरान ज्योति ने कहा था कि उसकी बस रास्ते में खराब हो गई है, एक घंटे में वह घर पहुंच जाएगी। लेकिन इसके बाद देर शाम तक भी वह घर नहीं लौटी और तब उसका फोन भी बंद बता रहा था।

इसके बाद रात के समय जब पुलिस ने ज्योति के मोबाइल से बात की तब उन्हें घटना की जानकारी मिली, हालांकि फिलहाल मामले में पुलिस जांच कर रही है, जिसके बाद ही मौत के कारणों को स्पष्ट किया जा सकता है।

loading...