Breaking News
  • दिल्लीः पूर्व भाजपा अध्यक्ष मांगेराम गर्ग का निधन
  • पूर्व मुख्यमंत्री और दिल्ली कांग्रेस की अध्यक्ष शीला दीक्षित का दिल्ली में अंतिम संस्कार
  • महेंद्र सिंह धोनी ने वापस लिया वेस्टइंडीज़ दौरे से नाम
  • भारतीय एथलीट हिमा दास ने 400 मीटर रेस में मारी बाजी, एक महीने में 5वां गोल्ड मेडल

अबकी बार मनु ने नहीं राही ने किया कमाल, किसी तरह जीत ही लिया गोल्ड

जकार्ता: इंडोनेशिया में आयोजित 18वें एशियाई खेलों के चौथे दिन बुधवार को भारत की युवा महिला निशानेबाज राही जीवन सारनाबोत ने 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में गेम रिकार्ड तोड़ते हुए स्वर्ण पदक जीता। बेहद रोचक मुकाबले में राही ने थाईलैंड की नापशावान यांगपाईबून को शूटऑफ में 3-2 से मात दिकर सोना अपने नाम किया।

स्पर्धा के दौरान दोनों खिलाड़ी 34-34 अंकों के साथ बराबरी पर रहे जिसके बाद अंतिम फैसले के तौर पर शूटऑफ कराया गाय जिसमें भारतीय विशानेबाज ने जीत दर्ज की। राही एशियाई खेलों में निशानेबाजी में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारत की पहली महिला खिलाड़ी हैं। इस स्पर्धा में राही का यह पहला स्वर्ण पदक है।

भारत को झटका, बिना खेले ही फाइनल से कैसे बाहर हो गई दीपा करमाकर

जबकि इसी स्पर्था में दक्षिण कोरिया की किम मिनजुंग तीसरे स्थान पर रही और कांस्य पदक पर कब्जा किया। बता दें कि फाइनल स्पर्धा में राही शुरुआत से पहले स्थान पर रहीं लेकिन इस बीच राही के कुछ निशाने चूकने गए जिसके बाद वह दूसरे स्थान पर आ गई। हालांकि आखिरी सीरीज में उन्बोंने यांगपाईबून के साथ स्कोर बराबर कर लिया।

स्कोर बराबर होने के कारण स्पर्धा शूटऑफ राउंड में चला गया। इतना ही नहीं यह मुकाबला बेहद ही रोचक रहा, जिसमें स्वर्ण और रजत पदक का फैसला दो शूटऑफ में निकला। पहले शूटऑफ में दोनों खिलाड़ियों ने एक-एक निशाना मिस कर दिया। इसके कारण एक और शूटऑफ हुआ। पहले दो निशानों दोनों ही खिलाड़ियों ने सही लगाए।

आज जीतेगा भारत- इन 2 युवा गेंदबाजों ने झटके 5-5 विकेट!

इसके बाद तीसरा निशाना राही ने सही लगाया जबकि थाईलैंड की खिलाड़ी इससे चूक गई, इसके बाद एक और निशाने को इन दोनों खिलाड़ियों मे मिस कर दिया। क्योंकि थाईलैंड की खिलाड़ी इससे पहले एक निशाने में और चूक कर चुकी थी, इसलिए बढ़त भारतीय खिलाड़ी के पास रहा और इस तरह से राही ने जीत दर्ज की।

इसके साथ ही आपको बता दें कि इसी स्पर्धा में भारत को युवा निशानेबाज मनु भाकेर से भी काफी उम्मीदें थी, लेकिन मनु 16 के स्कोर पर छठे स्थान पर रहते हुए पहले ही बाहर हो गईं। हालांकि मनु ने इसेस पहले क्वालीफिकेशन में शानदार प्रदर्शन करते हुए गेम रिकार्ड तोड़कर पहला स्थान हासिल किया था। बता दें कि इससे पहले राष्ट्रमंडल खेलों में मनु भारत के लिए गोल्ड जीत चुकी हैं।

यहां देखिए- दुनिया की सबसे खूबसूरत राष्ट्रपति की बेटी!

loading...