Breaking News
  • सोनभद्र जाने पर अड़ी प्रियंका गांधी, धरने का दूसरा दिन
  • असम और बिहार में बाढ़ से 150 लोगों की गई जान, 1 करोड़ से अधिक लोग प्रभावित
  • इलाहाबाद हाइकोर्ट ने पीएम मोदी को जारी किया नोटिस, 21 अगस्त को सुनवाई
  • कर्नाटक पर फैसले के लिए अब सोमवार का इंतजार

WC 2019 : ...14 को कप जीतने पर भी 14 को कप नहीं उठा पाएगा न्यूजीलैंड

नई दिल्ली : वर्ल्ड कप 2019 के शुरूआत के साथ ही हमने जिस सपने को देखा था, वह सपना सेमीफाइनल में हुए भारत और न्यूजीलैंड के बीच मैच के बाद धूमिल पड़ गया। जिसके बाद अब ये फाइनल इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच होगा। यह फाइनल मैच 14 जुलाई को क्रिकेट के मक्का कहे जानेवाले ग्राउंड लॉर्ड्स पर होगा। जिसपर दो दिग्गज टीम आमने सामने होंगे। लेकिन इन दोनों में कप का सबसे अधिक प्रबल दावेदार इंग्लैंड को माना जा रहा है। क्योंकि यह इंग्लैंड का घरेलू मैदान है।   

 

हालांकि इंग्लैंड काफी मजबूत टीम दिखायी दे रही है परन्तु न्यूज़ीलैंड भी भारत को वर्ल्ड कप से बाहर का रास्ता दिखाकर मानसिक रूप से काफी मजबूत दिख रहा है। इंग्लैंड के पास विश्व कप जीतने का बहुत प्रबल मौका है, सभी कंडीशन उनके साथ है। जिससे वह अपने ही घर में विश्व कप जीत कर इतिहास रचना चाहेगी।

बता दें कि इससे पहले भी इंग्लैंड 1992 के फाइनल में  पंहुचा था, जहां पाकिस्तान ने उसे हराकर विश्व कप पर कब्ज़ा किया था। लेकिन इस बार इंग्लैंड ये मौका बिलकुल भी गंवाना नहीं चाहेगा। गौरतलब हैं कि इससे पहले  भारत ही एक मात्र देश है जिसने  अपने देश में विश्व कप जीता हैं।

आपको बता दें कि दोनी ही टीमों के पास पहली बार विश्व कप जीतने का मौका हैं। अगर न्यूज़ीलैंड चैंपियन बनता हैं तो उसको ट्रॉफी 14 जुलाई को नहीं, बल्कि 15 जुलाई को मिलेगा। ऐसा इसलिए क्योंकि न्यूज़ीलैंड और इंग्लैंड के समय में 11 घंटे का अंतर है। लॉर्ड्स में जब 14 जुलाई को मैच खत्म होगा तब न्यूज़ीलैंड में तारीख़ 15 जुलाई होगी।

loading...