Breaking News
  • बैंक खातों को आधार से जोड़ना अनिवार्य: आरबीआई
  • कट्टरता के खिलाफ भारत मजबूत कार्रवाई कर रहा है: सेना प्रमुख बिपिन रावत
  • कुपवाड़ा में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़
  • विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आज से बांग्लादेश के दो दिवसीय दौरे पर होंगी रवाना

कैसा रहा धोनी का 36 साल- देखिए कुछ खास तस्वीरें..

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान से पूर्व कप्तान बने महेंद्र सिंह धोनी आज 7 जुलाई को अपना 36वां जन्मदिन मना रहे हैं। धोनी ने भारतीय टीम को क्रिकेट की दुनिया में एक अहम मुकाम दिया जिसके कारण वह टीम इंडिया के सबसे सफल कप्तान के तौर पर जाने जाते हैं।

लेकिन ऐसा नहीं है कि धोनी सिर्फ बेहतीन कप्तानी के लिए ही जाने जाते है, जब वह मैदान में होते हैं तो उनकी दमदार बल्लेबाजी और शानदार विकेटकीपर के तौर पर भी खूब सराहना की जाती रही है। हालांकि मौजूदा समय में धोनी टीम इंडिया के लिए क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में कप्तानी छोड़ चुके हैं, लेकिन वह टीम में बल्लेबाज और विकेटकीपर की हैसियत से बने हुए हैं।

महेंद्र सिंह धोनी का जीवन

धोनी का जन्म साल 1981 में उत्तराखंड के अल्मोड़ा में हुआ, धोनी के जन्म के बाद इनके पिता पान सिंह और माता देवकी देवी को नौकरी के कारण रांची में आकर बसना पड़ा, धोनी परिवार में एक भाई नरेंद्र और एक बहन जयंती भी हैं। रांची में पले-बढ़े धोनी ने क्रिकेट में अपनी रूची दिखाई और अपनी लगन के कारण उन्होंने क्रिकेट में कई उपलब्धियां हासिल कर देश के गौरव को चार चांद लगाया।

धोनी ने वीनू मांकड़ ट्रॉफी से होते हुए कूच बिहार ट्रॉफी में शानदार प्रदर्शन किया और इसी रास्ते पर चलते हुए वह टीम इंडिया में शामिल हुए और उनके प्रदर्शन को देखते हुए उन्हें टीम इंडिया की कमान भी जल्द ही सौंप दी गई। टेनिस बॉल से खेलते हुए धोनी ने हेलीकॉप्टर शॉट का इजाद किया जो मौजूदा समय में अंतराष्ट्रीय क्रिकेट मे धोनी के नाम से ही जाना जाता है।

धोनी का वनडे करियर

अपने कठिन परिश्रम के दम पर धोनी साल 2004 में पहली बार बांग्लादेश के खिलाफ टीम इंडिया में शामिल हुए लेकिन इस मैच में धोनी बिना खाता खोले ही रन-आउट होकर पवेलियन लौट गए। क्योंकि धोनी एक कमाल के विकेटकीपर हैं, इस लिए इन्हें बिना किसी विवाद के टीम में स्थाई जगह मिल गई, इस दौरान धोनी ने बेहतरीन बल्लेबाजी का भी प्रदर्शन किया।

धोनी ने साल 2005 में पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए सीरीज में अपने करियर का पहला शतक लगाकर अपने आपको साबित किया और विरोधी टीम को पस्त कर दिया, इसके बाद से धोनी की एक अपनी अलग ही पहचान बन गई। धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने 28 सालों के बाद 2011 में क्रिकेट विश्वकप जीतकर एक नया इतिहास कायम किया।

धोनी का टेस्ट करियर

वनडे मैचों में धोनी की शानदार कामयाबी को देखते हुए इसी साल के अंत तक उन्हें टेस्ट टीम में भी बतौर विकेटकीपर जगह मिल गई। हालांकि इस दौरान श्रीलंका के खिलाफ घरेलू सीरीज में धोनी ने कोई खास कमाल नहीं दिखाया लेकिन फैसलाबाद में पाकिस्तान के खिलाफ खेली गई इनकी 148 रनों की पारी ने उन्हें टेस्ट क्रिकेट मं भी एक पहचान दिला दी।

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया दौरे पर एक के बाद एक हार से परेशान और निराश धोनी ने अचानक एक बड़ा फैसला लेते हुए टेस्ट क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया। 30 दिसम्बर 2014 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए दूसरे टेस्ट के समाप्त होने के बाद प्रेस कॉंफ्रेंस के दौरान धोनी ने टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कर दिया।

लेकिन अभी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2 टेस्ट मैच बाकी थे और साल खत्म होने के साथ ही धोनी का करियर भी खत्म हो गया, जिसके बाद आनन-फानन में टेस्ट टीम के लिए टीम इंडिया के कप्तान के तौर पर विराट कोहली के नाम का ऐलान कर दिया गया।

धोनी का टी20 करियर

भरतीय टीम में करीब 3 साल तक धोनी ने जबरदस्त खेल दिखाया, जिसके बाद इनके प्रदर्शन को आकले हुए उन्होंने सबसे बड़े तोहफे के तौर पर बड़ी जिम्मेदारी सौपते हुए वनडे टीम का उप-कप्तान और टी20 टीम का कप्तान की कमान दी गई। इसके बाद धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने पहली बार 2007 में टीम विश्व कप पर कब्जा किया।

धोनी की शादी

टीम इंडिया के लिए सभी फॉर्मेट में कप्तानी संभालते हुए धोनी ने 2010 में शादी का ऐलान किया और उन्होंने अपनी गर्लफ्रेंड साक्षी के साथ 4 जुलाई 2010 को शादी के अटूट बंधन में बंध गए। मैजूदा समय में धोनी की एक बेटी जिवा धोनी भी उनके परिवार का एक अहम हिस्सा हैं।

चैम्पियंस ट्रॉफी में धोनी

एक के बाद एक कामयाबियों के बाद धोनी ने साल 2013 में इंग्लैंड में खेली गई चैम्पियंस ट्रॉफी को भी जीत कर एक और नया इतिहास कायम कर दिया। इसके साथ-साथ धोनी एक मात्र ऐसे कप्तान बने जिसने आईसीसी की तीनों विश्व कप को अपने नेतृत्व में जीता हो।

इसके बाद भी धोनी मौजूदा समय में टीम इंडिया के सात वनडे और टी20 टीम ले जुड़े हुए है, और विकेटकिपर के साथ-साथ बल्लेबाज के तौर पर भी अहम भूमिका में दिख रहे है। 

loading...