Breaking News
  • भागलपुर: सरकारी खाते से राशि की अवैध निकासी मामले की CBI जांच, सीएम ने दिया निर्देश
  • आयकर विभाग ने लालू की बेटी मीसा भारती और उनके पति को पूछताछ के लिए बुलाया
  • उत्तर प्रदेश: 7,500 किसानों को सौंपा गया कर्ज माफी प्रमाण पत्र
  • स्पेन: बार्सिलोना आतंकी हमले में 13 की मौत, 2 संदिग्ध गिरफ्तार
  • तमिलनाडु: पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय जे. जयललिता की मौत की जांच के आदेश
  • जम्मू-कश्मीर: आतंकी फंडिंग के मामले में व्यापारी ज़हूर वताली गिरफ्तार

संन्यास से पहले इस खिलाड़ी को मिला ये खास सम्मान

NEW DELHI:- इंग्लैंड ने साउथ अफ्रीका को तीसरे टेस्ट मैच में हरा दिया है। इंग्लैंड टीम अब अपने चौथे और आखिरी मैच के लिए पूरी तरह से तैयार है। इंग्लैंड ने 2 टेस्ट मैच जीतकर पहले ही सीरीज को अपने नामम कर या है। टीमों की तैयारियों के बीच मैनचेस्टर ने ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर एक शानदार तैयारी की है। अब मैदान का पवेलियन छोर इंग्लैंड के महान तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन के नाम पर कर दिया है।

क्रिकेट इतिहास में कम ही ऐसे खिलाड़ी हुए हैं जिनके खेल के दौरान ऐसा सम्मान मिला हो। भारत के सचिन तेंदुलकर को ये सम्मान वानखेड़े स्टेडियम में स्टैंड के साथ महाराष्ट्र किकेट ने दिया था।

लंकाशायर और इंग्लैंड के लिए कई यादगार प्रदर्शन करने वाले जेम्स एंडरसन इस सम्मान से काफी खुश हैं। उन्होंने कहा,ये बेहद खास सम्मान है, 15 साल से इस क्लब के साथ हूं। मुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि ऐसा सम्मान मुझे दिया गया है।

उन्होंने कहा, आमतौर पर ऐसा सम्मान संन्यास के बाद मिलता है लेकिन मैं अभी हैरान भी हूं और खुश भी, मैं अपने ही छोर से गेंदबाजी करने जाऊंगा तो ये मुझे रोमांचित करेगा।

इंग्लैंड की ओर से टेस्ट क्रिकेट में सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज जेम्स एंडरसन 500 विकेट से 20 विकेट दूर हैं और इसके लिए उन्होंने अपना लक्ष्य साल के अंत में होने वाले एशेज़ के लिए बना लिया है। उन्होंने कहा कि अभी भी मेरे लिए कुछ लक्ष्य बचे हैं। उन्होंने कहा कि मैं एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया में एशेज जीतना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि इस टीम में काफी क्षमता है और अगले दो साल तक टीम बहुत कुछ कर सकती है उनकी चाहत है कि वो इन दो सालों में टीम के साथ रहें और क्रिकेट मैदान पर कुछ नया हासिल करें।

loading...

Subscribe to our Channel