Breaking News
  • अयोध्या मामले में 2 अगस्त से खुली कोर्ट में सुनवाई, 31 जुलाई तक मध्यस्थता की प्रक्रिया
  • महाराष्ट्र में गोरखपुर अंत्योदय एक्सप्रेस पटरी से उतरी
  • अमरनाथ यात्रा पर आतंकी कर सकते हैं आतंकी हमला : सूत्र
  • कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार का शक्ति परीक्षण, 2 बसों में विधानसभा पहुंचे BJP विधायक

भारत के रिकॉर्ड में दब गया पाकिस्तान, टूट गई कमर

नोएडा : क्रिकेट के महाकुंभ में रविवार 16 जून को चिर प्रतिद्वंदी भारत और पाकिस्तान के बीच महामुकाबला हुआ, जिसमे भारत ने विश्व कप में पाकिस्तान के ऊपर अपनी बरसो पुरानी जीत की परंपरा को कायम रखते हुए उन्हें 89 रनो से पटखनी दी। अब तक हुए कुल मैचों में भारत की यह सातवीं जीत थी।  पाकिस्तान विश्व कप में भारत को कभी नहीं हरा पाया। हिटमैन रोहित ने एक बार फिर से अपने कौशल और टीम में अपनी महत्व का परिचय देते हुए शानदार शतक लगाया और टीम के पहाड़ जैसा स्कोर खड़ा करने में एक मजबूत नींव रखी।

विजय शंकर और कुलदीप यादव की धरादार गेंदबाज़ी की बदौलत भारत ने पाकिस्तान को मैच में वापसी का मौका ही नहीं दिया। पाकिस्तान की तरफ से फखर जमां और बाबर आज़म ने साझेदारी करते हुए टीम का स्कोर 100 के पार पहुंचा दिया था, तब ऐसा लग रहा था कि शायद पाकिस्तान इस मैच में कड़ी टक्कर देने जा रहा है लेकिन 23वें ओवर की आखिरी बॉल पर कुलदीप यादव ने बाबर को चकमा देते हुए उन्हें बोल्ड कर दिया और यही पाकिस्तान की हार का टर्निंग पॉइंट रहा। उसके बाद कोई भी पाकिस्तानी बल्लेबाज़ भारतीय गेंदबाज़ो के सामने टिक नहीं पाया और बारिश से बाधित इस मैच में डकवर्थ लुइस नियम के आधार पर भारत को 89 रनो से विजेता घोषित कर दिया।

पाकिस्तान इस बार फिर भारत की जीत के अभेद किले को  भेदने में असमर्थ रहा और भारत ने पाकिस्तान पर अपनी बादशाहत कायम रखीं। हालंकि पाकिस्तान इस मैच में भारत को कड़ी टक्कर नहीं दे पाया लेकिन दोनों ही टीमों की तरफ से इस मैच में मैनचेस्टर कई रिकार्ड्स का गवाह बना। आइये डालते है नज़र कल बने ऐसे ही कुछ रिकार्ड्स पर : -

‘भगवान’ से भी विराट रन मशीन:

भारतीय टीम के कप्तान और विश्व के नंबर एक बल्लेबाज़ विराट कोहली मैनचेस्टर में पाकिस्तान के खिलाफ  57वां रन लेते ही क्रिकेट में सबसे तेज़ 11000 रन बनाने वाले बल्लेबाज़ बन गए, हसन अली की एक गेंद को फाइन लेग की तरफ बॉउंड्री की ओर भेजते हुए उन्होंने इस माइलस्टोन को टच किया।  कोहली ने ये कारनामा 222 परियो में कर दिखाया, इससे पहले ये रिकॉर्ड क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के नाम था, सचिन को 11000 रन बनाने में 276 परिया  खेलनी पड़ी थी। विराट ने सचिन की मुकाबले 54 पारिया कम खेल के ये रिकॉर्ड अपने नाम किया।

पहले ही स्पैल पर विकेट लेकर बना डाला यह रिकॉर्ड :

विराट कोहली के फैसले को सही ठहराते हुए विजय शंकर ने अपने पहले ही ओवर के पहली गेंद पर इमाम को चलता कर दिया, लेकिन इसके साथ ही उन्होंने एक अनोखा रिकॉर्ड बना डाला। वे पहले ऐसे भारतीय गेंदबाज बनें जिन्होंने अपने करियर के पहले ही मैच के पहले ओवर में विकेट चटकाया। इससे पहले ये कारनामा ऑस्ट्रेलिया के इयान हार्वी और बरमुडा के मालाची जोन्स कर चुके है। बता दें कि शंकर को यह मौका भुवी के पैर में अचानक आए खिंचाव के कारण मिला। जिसके बाद भुवनेश्वर का यह अधूरा ओवर पूरा करने आए शंकर ने इमाम उल हक को एलबीडब्लू कर रिकॉर्ड बुक में अपना नाम दर्ज़ किया।

पाकिस्तान की शतकीय साझेदारी :

पाकिस्तान की तरफ से बाब़र और फखर जमां ने शानदार खेल दिखते हुए दूसरे विकेट के लिए 104 रनो की शतकीय साझेदारी की, जो विश्व कप में पाकिस्तान की तरफ से किसी भी विकेट के लिए शतकीय साझेदारी एक रिकॉर्ड है। इससे पहले ये रिकॉर्ड आमिर सोहैल और जावेद मियादाद के नाम था, जिन्होंने 88 रनो की साझेदारी की थी।

हसन अली की कमजोर गेंदबाज़ी :

पकिस्तान के पेसर हसन अली का 9वें ओवर में 84 रन देकर एक विकेट लेना भी एक रिकॉर्ड बन गया, इससे पहले पाकिस्तान के किसी भी बॉलर ने इतने रन नहीं दिए।

पहली बार गेंदबाज़ी :

विश्व कप में भारत और पाकिस्तान के मैचों में पहली बार किसी कप्तान द्वारा गेंदबाज़ी का निर्णय भी एक रिकॉर्ड बन गया, इससे पहले खेले गए छ मैचों में जिस भी कप्तान ने टॉस जीता हमेशा बल्लेबाज़ी ही चुनी।

सबसे ज्यादा व्यक्तिगत रन :

रोहित शर्मा द्वारा 113 गेंदों में बनाये गए 140 रन किसी भी भारतीय बल्लेबाज़ का पाकिस्तान के खिलाफ सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर है, इससे पहले ये रिकॉर्ड कप्तान विराट कोहली के नाम था। उन्होंने 2015 विश्व कप के दौरान पाकिस्तान के खिलाफ 107 रन बनाये थे। रोहित शर्मा विराट कोहली के बाद दूसरे भारतीय बल्लेबाज़ है,  जिन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ शतक लगाया है।

एक और शतकीय साझेदारी :

वर्ल्ड कप में पहली बार लगातार दो मैचों में भारतीय टीम की ओपनिंग जोड़ी ने शतकीय साझेदारी की। शिखर धवन और रोहित शर्मा ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 127 रन जोड़े और फिर रोहित शर्मा और केएल राहुल ने पाकिस्तान के विरूद्ध 136 रन  बनाये। रोहित शर्मा  और  केएल राहुल की जोड़ी पहली भारतीय जोड़ी बनी, जिसने विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ 100 रनों की पार्टनरशिप  की।

इस मैच में कुछ  खिलाडी अच्छे रिकार्ड्स के लिए जाने जायेंगे तो कुछ ख़राब रिकार्ड्स के लिए, मेनचेस्टर में खेले गए इस हाई वोल्टेज मुकबले में रिकार्ड्स के बीच भारतीय टीम ने एक बार फिर  पकिस्तान को विश्व कप में मात दी और अपने विजयी रथ को आगे बढ़ाया। 

loading...