Breaking News
  • चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने सुप्रीम कोर्ट में आज चार नए जजों को दिलाई शपथ
  • ह्यूस्टन में हाउडी मोदी कार्यक्रम की सफलता पर भड़का पाकिस्तान
  • आर्मी चीफ बिपिन रावत का बयान, पाकिस्तान ने बालाकोट में आतंकी कैंपों को फिर से सक्रिय कर दिया है
  • गृह मंत्री ने कहा कि कहा कि 2021 की जनगणना में मोबाइल एप का प्रयोग होगा

विश्व कप में भारत का ऐसा अंत किसी ने नहीं सोचा था...

मैनचेस्टर: दुनिया की सबसे पराक्रमी क्रिकेट टीम के सफर का ऐसा अंत किसी ने नही सोचा था जैसा हुआ। इंग्लैंड में जारी विश्व कप के पहले सेमीफाइनल में न्यू जीलैंड से हारकर टीम इंडिया का सफर यहीं पर समाप्त हो गया है। बारिश से बाधित हुए मैच में कीवी टीम ने पहले खेलते हुए 240 रन का लक्ष्य रखा, जिसे भेद पाने में विराट सेना नाकाम रही।

सेमीफाइनल मुकाबला मैंचेस्टर के ऐतिहासिक मैदान में मंगलवार को शुरू हुआ, लेकिन अंत बुधवार भारत के 18 रनों से हार के साथ हुआ। दरअसल, मंगवार को बारिश के कारण मैच बीच में ही रोक दिया गया, जो बुधवार को वहीं से शुरू हुआ, बचे हुए ओवर खेलने के बाद भारतीय टीम की बल्लेबाजी आई, प्रशंसकों का हैसला सातवें आसमान पर था, लेकिन सलामी बल्लेबाज रोहित और राहुल का बल्ला खामोश रहा, सेनापति विराट और महारथी महेंद्र सिंह धोनी भी हार नहीं बचा सके।

न्यूजीलैंडज से मिले साधरण लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारती टीम के हैसले जीत के मुंहाने पर आकर पस्त पड़ गए। एक वक्त में 92 रन पर 6 विकेट गंवा चुकी टीम इंडिया को जडेजा और धोनी ने बखूबी संभाला, तब ऐसा लग रहा था कि शायद बात बन जाएगी। दोनों ने 7वें विकेट के लिए 116 रन की साझेदारी की, लेकिन फिर भी टीम 18 रनों से हार गई।

loading...