Breaking News
  • अयोध्या मामले में 2 अगस्त से खुली कोर्ट में सुनवाई, 31 जुलाई तक मध्यस्थता की प्रक्रिया
  • महाराष्ट्र में गोरखपुर अंत्योदय एक्सप्रेस पटरी से उतरी
  • अमरनाथ यात्रा पर आतंकी कर सकते हैं आतंकी हमला : सूत्र
  • कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार का शक्ति परीक्षण, 2 बसों में विधानसभा पहुंचे BJP विधायक

भारत की हार से सदमे में पाक, बांग्लादेश और श्रीलंका...

नोएडा : बर्मिंघम में अंग्रेजों के खिलाफ टीम इंडिया की हार ने सिर्फ भारत को ही नहीं बल्कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका के भी सपने तोड़ दिए है। इंग्लैंड में जारी क्रिकेट महाकुंभ में विराट सेना का अश्वमेध अंग्रेजों के हाथों पकड़ा गया। विश्व कप में इंग्लैंड के खिलाफ भारत की हार, टूर्नामेंट में भारत की पहली हार है।

अब तक खेले गए 7 मैचों में 5 जीत और 1 हार के बाद 11 अंकों के साथ टीम इंडिया दूसरे पायदान पर है। अगर इंग्लैंड के खिलाफ भारत की जीत होती तो, पाकिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका की सेमीफाइनल की उम्मीद बढ़ जाती, यही कारण है कि भारत के अलावा इन तीन देशों के प्रशंसक भी भारत की जीत चाहते थे। टीम इंडिया को सपोर्ट करते हुए पाकिस्तानी फैंस ने अंग्रेजों की धरती पर भारत का राष्ट्रगान भी गाया, लेकिन टीम इंडिया ने इन सभी टीमों का भरोसा भी तोड़ दिया। इस भरोसे को तोड़ने में शायद सबसे बड़ा योगदान सुपर डुपर, हार्ड हिटर महेंद्र सिंह धोनी का रहा, फॉर्म में चल रहे धोनी का बल्ला खामोश रहा। हालांकि जब धोनी ने बल्ले के साथ मैदान में प्रवेश किया तब तक जीत की उम्मीद बरकरार थी, जो अंत तक रही।

31 गेंद में 42 रन बनाकर धोनी नाबाद लौटे लेकिन हार का गम उनके चेहरे पर भी था। धोनी नाबाद रहे और भारत को मैच गंवानी पड़ी। मैच के अंतिम क्षणों में हार से पहले ही धोनी ने हार मान लिया। हेलीकाप्टर शॉट उड़ान भरने से पहले ही लैंड हो गए, हालत ऐसा कि छक्के-चौके के लिए मशहूर धोनी सिंगल से आगे बढ़ नहीं पाये और जब रफ्तार पकड़ी तो गाड़ी स्टेशन से निकल चुकी थी। धोनी की धीमी पारी ने सब पर पानी फेर दी, रोहित का शतक, विश्व कप में विराट का लगातार छठ्ठा अर्धशतक, हार्दिक पांड्या का 33 में 45 और मोहम्मद शमी का 5 विकेट सब धुल गए। इग्लैंड के खिलाफ मिली हार के बाद अब भारतीय टीम मंगलवार को बांग्लादेश के खिलाफ भीड़ेगी। इसी हफ्ते टीम इंडिया शनिवार को श्रीलंका के खिलाफ भी उतरेगी।

loading...