Breaking News
  • संसद के मॉनसून सत्र से पहले लोकसभाध्यक्ष ने बुलाई सर्वदलीय बैठक
  • गुजरात में बारिश से अबतक 28 की मौत, यूपी-एमपी में अलर्ट
  • मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी टीडीपी, विपक्षी दलों से मांगा समर्थन
  • भारत-इंग्लैंड के बीच तीसरा और निर्णायक वनडे मैच

टीम इंडिया के ‘गब्बर’ के परिवार को फ्लाइट पर बैठने से रोका, ये था मामला...

shikhar dhawan family

NEW DELHI:- भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने शुक्रवार को एमिरेट्स एयरलाइंस को आड़े हाथों लिया। एयरलाइंस ने धवन के साथ दक्षिण अफ्रीका जा रही उनकी पत्नी और बच्चों को विमान में जाने से रोक दिया था। भारतीय टीम ने सुबह दक्षिण अफ्रीका की जमीं पर कदम रखा।

भारतीय टीम यहां तीन टेस्ट, छह वनडे और तीन टी-20 मैचों की सीरीज खेलेगी।

धवन ने एमिरेट्स एयरलाइंस पर आरोप लगाया कि उन्होंने धवन को बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र और बच्चों के साथ पत्नी ऐशा मुखर्जी का पहचान पत्र साथ लाने की सूचना नहीं दी थी।

धवन ने ट्विटर पर लिखा, "एमिरेट्स विमानसेवा का बिल्कुल गैरपेशवर रवैया। मैं अपने परिवार के साथ दक्षिण अफ्रीका जा रहा था और मेरे बच्चे दुबई से दक्षिण अफ्रीका का विमान नहीं पकड़ सके। उन्होंने मुझसे बच्चों का जन्म प्रमाण पत्र और अन्य कागजात मांगे जो उस समय हमारे पास नहीं थे।"

उन्होंने कहा, "वह दुबई हवाईअड्डे पर हैं वो कागजात आने का इंतजार कर रहे हैं। एमिरेट्स ने मुंबई में इस बारे में क्यों नहीं बताया। एमिरेट्स का एक कर्मचारी बिना किसी बात के बुरा व्यवहार कर रहा था।"

वहीं विमानन कंपनी ने अपनी तरफ से सफाई देते हुए कहा है कि वह सिर्फ दक्षिण अफ्रीका के कानून का पालन कर रहे थे।

एमिरेट्स के प्रवक्ता ने कहा, "हम जानते हैं कि उनका परिवार तय कार्यक्रम के मुताबिक सफर नहीं कर सका। हमें असुविधा के लिए खेद है। हालांकि एक जून 2015 से दक्षिण अफ्रीका के नियमों के मुताबिक, 18 साल की उम्र से कम का कोई भी शख्स दक्षिण अफ्रीका आता है तो उसे अपने माता-पिता संबंधी कागज दिखाने पड़ेंगे।"

सभी एयरलाइंस की तरह हमें भी हर देश के कानून का पालन करना पड़ता है और यह यात्रियों की भी जिम्मेदारी है जिन्हें यात्रा से जरूरी सभी संबंधित कागजात अपने साथ रखने होते हैं।"

loading...