Breaking News
  • सोनभद्र जमीन मामले में अब तक 26 आरोपी गिरफ्तार, प्रियंका करेंगी मुलाकात
  • वेस्टइंडीज दौरे के लिए रविवार को 11:30 बजे होगा टीम इंडिया का चयन
  • बिहार : बाढ़ से अब तक 83 लोगों की मौत
  • कर्नाटक में आज दोपहर डेढ़ बजे तक सरकार को साबित करना होगा बहुमत

आखिर टीम इंडिया की भगवा जर्जी पर क्यों मचा है घमासान?

नोएडा: विराट की मैन इन ब्लू सेना इन दिनों इंग्लैंड में जारी विश्व कप में धमाल मचा रही है। लेकिन भारत में टीम इंडिया की जर्सी पर सियासी संग्राम मचा है। दरअसल, विश्व कप में 30 जून को होने वाले मैच में टीम इंडिया पारंपरिक नीले रंग की जर्सी की बजाय नारंगी जर्सी में उतरेगी। हालांकि टीम इंडिया की नई जर्सी वैकल्पिक तौर पर है।

टीम इंडिया की नई भगवा जर्सी पर छिड़ी सियासी जंग में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी ने केंद्र की मोदी सरकार को निशाने पर लिया है। विपक्ष की माने तो टीम इंडिया की भगवा जर्सी के पीछे मोदी सरकारा का हाथ है। सरकार क्रिकेट में भी भगवा राजनीति को शामिल करने का प्रयास कर रही है। वहीं मामले पर बवाल बढ़ता देख इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्डी की ओर से सफाई भी दी गई है।

इससे पहले बता दें कि टीम इंडिया की जर्सी में बदलाव का फैसला इसलिए किया गया है, क्योंकि इंग्लैंड और भारत , दोनों टीमों की जर्सी एक समान दिखता है।  लिहाजा टीम इंडिया को इग्लैंड के खिलाफ होने वाले मुकाबले में वैकल्पिक जर्सी के साथ ही उतरना होगा। वहीं मामले पर स्पष्टीकरण देते हुए आईसीसी ने बताया कि बीसीसीआई को रंग के कई विकल्प दिए गया था और उन्होंने वही चुना जो उन्हें जर्सी के रंग के साथ बेहतर लगा। यह डिजाइन भारत की पुरानी टी-20 जर्सी से लिया गया है, जिसमें नारंगी रंग था।

आईसीसी के अनुसार, इस जर्सी के डिजाइनर अमेरिका में है। उन्होंने इसके लिए किसी भी नये रंग का इस्तेमाल नहीं किया है, बल्कि जो पहले से मौजूद थे उसे ही रखा गया है। जर्सी के डिजाइन के दौरान यह भी ध्यान में रखा गया कि क्रिकेट प्रेमियों को टीम इंडिया के खिलाड़ियों को पहचानने में कोई परेशानी न हो। वहीं बीसीसीआई ने भी इसमे किसी भी तरह के राजनीतिक हस्ताक्षेप से इनकार किया है।

loading...