Breaking News
  • हिमाचल प्रदेश में भारी बर्फबारी, स्कूल-कॉलेज आज रहेंगे बंद
  • एशिया कप: पाकिस्तान को दी 9 विकेट से करारी शिकस्त देकर फाइनल में भारत
  • मुंबई समेत पूरे देश में बप्पा को धूमधाम से दी गई विदाई

निर्भया केस: सबसे ज्यादा दरिंदगी करने वाला नाबालिग जी रहा है 'ठाठ' की जिंदगी...

नई दिल्ली: निर्भया गैंगरेप के मामले में देश की सबसे बड़ी अदालत कुछ ही देर में दरिंदों के खिलाफ अपना फैसला सुनाने वाली है, लेकिन इन दरिंदों के बीच अभी भी एक ऐसा खौफनाक दरिंदे का जिक्र हो रहा है जो इस वारदात का मास्टरमाइंड ही नहीं सबसे ज्यादा हैवानियत करने वाला नाबालिग था।

दरअसल निचली अदालत द्वारा निर्भया कांड के 4 दोषियों को दी गयी फांसी की सजा पर समीक्षा याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट फैसला सुनाने वाली है जिसमें तय होगा की उन्हें राहत मिलेगी या दरिंदों को फांसी पर ही लटकाया जाएगा। अगर कोर्ट चारो को फांसी की सजा बरकरार भी रखता है और उन्हें फांसी पर चढ़ा भी दिया जाता है तो अब भी पीडिता को पूर्ण न्याय नहीं मिलगा। क्योंकि इस पूरी जघन्य वारदात का सबसे बड़ा गुनहगार आज भी खुला घूम रहा है।

साल 2012 में हुए दहला देने वाली रेप की घटना का सबसे बड़ा मास्टरमाइंड और हैवानियत करने वाला एक नाबालिग ही था। मामले की जांच और पूछताछ करने वाले अधिकारी के एक करीबी ने इस बारे में बताया कि पीड़िता के बस में चढने के बाद नाबालिग ने ही रेप के लिए साथियों को उकसाया था। कहा यहाँ तक जा रहा है कि निर्भया के साथ सबसे ज्यादा दरिंदगी नाबालिग ने ही की थी, लेकिन देश के लचर कानून ने उसे बिना कोई कठोर सजा के ही छोड़ दिया था। वहीँ अब भी वह खुला घूम रहा है और मजे की जिन्दगी जी रहा है। ऐसे में लोगों का उसके प्रति गुस्सा फिर से भडकने लगा है।

मुंबई में जलप्रलय: भारी बारिश में कई जगह बाढ़ जैसी स्थित

साल 2012 में रेप के बाद उसे जब पकड़ा गया था तब वह कथित रूप से नाबालिग था, लेकिन अब वह 23 साल हो चुका है। उसे कोर्ट ने 3 साल की सजा के बाद 20 दिसंबर, 2015 को रिहा कर दिया गया था। रेप मामले में उसे बाल सुधार गृह भेजा गया था। उसके बाद वह रिहा होकर ठाठ की जिन्दगी जी रहा है। एक मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 'आफ्टर केयर' प्रोग्राम के तहत उस नाबालिग को एक नई गुमनाम जिंदगी देकर बसाया गया। उसे साउथ भारत के किसे होटल में कुक की नौकरी दिलवाई गयी है।

मुन्ना बजरंगी हत्याकाण्ड: कई अधिकारी निलंबित, इन लोगों पर शक की सुई

उसकी जानकारी को गोपनीय रखा गया है, क्योंकि सबसे ज्यादा हैवानियत करने वाला दरिंदे के प्रति लोगों का गुस्सा है और उसकी कभी भी हत्या की जा सकती है। लेकिन उससे बड़ा सवाल आज भी यही है कि क्या उस हैवान से बेटियों की सुरक्षा को खतरा नहीं है? वह जिस जगह या होटल में हैं वहां भी वह कोई दूसरी ऐसी ही वारदात को अंजाम दे सकता है? ऐसे में एकबार फिर से उस दरिंदे को फांसी देने की मांग उठी है।

यह भी देखें-

loading...