Breaking News
  • संसद के मॉनसून सत्र से पहले लोकसभाध्यक्ष ने बुलाई सर्वदलीय बैठक
  • गुजरात में बारिश से अबतक 28 की मौत, यूपी-एमपी में अलर्ट
  • मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी टीडीपी, विपक्षी दलों से मांगा समर्थन
  • भारत-इंग्लैंड के बीच तीसरा और निर्णायक वनडे मैच

कर्नाटक: जेडीएस नेता ने लिया ऐसा फैसला कि 'सरकार' भी रह गयी हैरान

बेंगलुरु: अभी तक आपने नेताओं को पैसा इकठ्ठा करते या उनकी सम्पत्ति में कई गुना बढ़ोत्तरी की खबरें ही सुनी होंगी, लेकिन अब आपको कर्नाटक में सत्ताधारी जनता दल सेक्युलर के सबसे अमीर नेता से मिलवा रहे हैं। जिन्होंने एक ऐसा फैसला लिया है जो कि बड़े बड़े दिग्गज भी नहीं ले पाते है।

बतादें कि एक जारी रिपोर्ट के मुताबिक़ बताया जा रहा है कि कर्नाटक की सत्ताधारी पार्टी जनता दल सेकुलर (जेडीएस) से विधान परिषद के सबसे रईस सदस्य बीएम फारूक ने कुछ अजीबोगरीब घोषणा कर संका ध्यान अपनी ओर खीचा है। जारी एक खबर में बताया जा रहा है कि विधान परिसद सदस्य बीएम फारुख की जेडीएस के सबसे अमीर नेता हैं। ऐसे में बीएम फारुख ने अपनी कमाई और आय के एक बड़े हिस्से को समाज सेवा पर खर्च करने की घोषणा की है।

ऐसा भी कोई करता है: यह खबर पढ़ने के बाद ट्रैफिक पुलिस से उठ जाएगा भरोसा...

विधान परिसद का सदस्य होने के नाते उन्हें कई वेतन और भत्ते मिलते हैं। वहीँ वह सक्षम है तो उन्होंने अपने वेतन और भत्तों को जरूरतमंद मरीजों और अनाथ बच्चों पर खर्च करने का ऐलान किया है। दरअसल चुनावी हलफनामे और एक प्रकाशित रिपोर्ट में फारूक और उनकी पत्नी की संपत्ति 770 करोड़ रुपये बताई गयी है जोकि जेडीएस के नेताओं में सबसे ज्यादा है। ऐसे में बीएम फारूक ने समाज सेवा का बीड़ा उठाते हुए जरुरतमंदों के लिए अपना खजाना खोल दिया है।

हिमाचल: फिर सक्रिय हुआ मानसून, ला सकता है भारी तबाही!

दरअसल वह सरकार के साथ साथ अपने वेतन और भत्ते से राज्य के कई क्षत्रों में झुग्गियों बसे लोगों के लिए अस्पताल और कौशल केंद्र खोलने पर विचार कर रहे हैं। जिससे उन्हें बेहतर इलाज और रोजगार का प्रशिक्षण मिल सके। वहीँ सदी सदस्य होने के कारण हर महीने एक लाख रुपये वेतन मिलता है। इसी के साथ ही कई तरह की सुविधाओं के लिए भत्ता भी अलग से दिया जाता है। जोकि अब वह इस वेतन और भत्ते का प्रयोग जरुरतमंदो की मदद के लिए करेंगे।  

यह भी देखें- 

loading...